सऊदी अरब का ईरानी प्रशिक्षित आतंकवादियों के सेल को खत्म करने का दावा | दुनिया | DW | 29.09.2020
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

सऊदी अरब का ईरानी प्रशिक्षित आतंकवादियों के सेल को खत्म करने का दावा

सऊदी अरब में अधिकारियों ने 10 संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया है और हथियार और विस्फोटक जब्त किए हैं. अधिकारियों का कहना है कि उनमें से सात ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड्स के थे.

सऊदी अरब का कहना है कि उसने देश में आतंकवादी सेल का पर्दाफाश किया है जिसमें ईरानी प्रशिक्षित आतंकवादी शामिल थे. अधिकारियों का कहना है कि गिरफ्तार किए गए 10 संदिग्धों में से तीन को ईरान में बम बनाने की ट्रेनिंग मिली थी. सऊदी अधिकारियों का कहना है कि संदिग्धों के पास से हथियार और विस्फोटक भी बरामद किए गए हैं. अधिकारियों का दावा है कि संदिग्धों को रिवोल्यूशनरी गार्ड्स द्वारा प्रशिक्षित किया गया था.

सऊदी अरब के खुफिया विभाग ने एक बयान में कहा कि पिछले सप्ताह कुछ संदिग्धों की पहचान और दो ठिकाने, एक घर और एक फार्महाउस की तलाशी के बाद गिरफ्तारी हुई है. बयान के मुताबिक, तीन संदिग्धों को ईरान में प्रशिक्षित किया गया था, जहां उन्हें विस्फोटक के साथ-साथ सैन्य और युद्ध क्षेत्र में काम करने का प्रशिक्षण भी दिया गया था.

सऊदी अधिकारियों का यह भी कहना है कि रिवोल्यूशनरी गार्ड्स कमांडरों द्वारा अक्टूबर और दिसंबर 2017 के बीच इन संदिग्धों को प्रशिक्षित किया गया था. सऊदी प्रेस एजेंसी के मुताबिक, इस समूह के अन्य सात गिरफ्तार सदस्यों की भूमिका बाकी तीन से थोड़ी अलग है. हालांकि, सऊदी सरकार ने "जांच के हित के लिए" गिरफ्तार लोगों की पहचान जारी नहीं की है. अधिकारी गिरफ्तार लोगों से देश के अंदर और बाहर उनके संपर्क में रहने वाले लोगों के बारे में अधिक जानकारी इकट्ठा करने की कोशिश कर रहे हैं. साथ ही यह भी पता लगा रहे हैं कि देश के भीतर उनके संपर्क में कौन है.

Saudi Arabien | Menge an Waffen, Sprengstoffen, Chemikalien und elektronischen Geräten entdeckt

संदिग्धों से बरामद हथियार और अन्य उपकरण.

सऊदी मीडिया में आई खबरों के मुताबिक सुरक्षाकर्मियों ने संदिग्धों से पांच किलोग्राम से अधिक गोला-बारूद, विभिन्न रसायनों के 17 पैकेट और कई सैन्य वर्दियां जब्त की हैं. इसके अलावा सुनने के लिए उच्च तकनीक वाले यंत्र, कंप्यूटर, चाकू, मशीनगन, राइफलें, पिस्तौल समेत अन्य हथियार बरामद किए हैं.

सऊदी अरब और ईरान इस क्षेत्र में प्रतिद्वंद्वी हैं और यमन सहित विभिन्न विवादों पर एक दूसरे के खिलाफ अलग-अलग प्रॉक्सी वॉर में शामिल रहे हैं.  सऊदी अरब का कहना है कि ईरान पिछले एक साल में उसके अलग-अलग तेल संयंत्रों पर मिसाइल और ड्रोन हमलों में शामिल रहा है लेकिन तेहरान इन आरोपों से हमेशा इनकार करता आया है.

एए/सीके (डीपीए)

__________________________

हमसे जुड़ें: Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन