ताज महल का अपमान करती विश्व सुंदरी | लाइफस्टाइल | DW | 10.10.2013
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

लाइफस्टाइल

ताज महल का अपमान करती विश्व सुंदरी

मिस यूनिवर्स की भारत यात्रा को लेकर मीडिया में काफी चर्चा हुई लेकिन अमेरिका की ओलिविया कुल्पो को पुलिस कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है. ताज महल निहारने पहुंची कुल्पो पर इमारत के अपमान का आरोप लगा है.

21 साल की कुल्पो के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज हो चुकी है. उनपर आरोप है कि उन्होंने ताजमहल के पास बिना अनुमति के जूतों की एक फैशन शूट में हिस्सा लिया. ताज महल के केयरटेकर मुनज्जर अली ने कहा है कि यह इमारत का अपमान है. आगरा में पुलिस अधिकारी सुशांत गौड़ ने कहा, "हमने शिकायत के बाद कुल्पो और उनकी टीम पर मामला दर्ज किया है. उन पर भारत की प्राचीन इमारतों और पुरातत्व स्थल एक्ट के तहत मामले दर्ज हुए हैं."

गौड़ के मुताबिक ओलिविया कुल्पो ने ताज महल के सामने डायना सीट पर जूते के विज्ञापन के लिए पोज किया. ताज महल के सामने संगमरमर की इस सीट को 1992 में राजकुमारी डायना के बाद डायना सीट के नाम से जाना जाने लगा. भारतीय पुरातत्व विभाग के एनके पाठक के मुताबिक ताज महल पर किसी तरह का विज्ञापन करने की अनुमति नहीं है और कुल्पो की टीम ने फोटो शूट की इजाजत नहीं ली थी. कुल्पो के साथ फैशन डिजाइनर संजना जॉन के खिलाफ भी शिकायत दर्ज हुई है.

ताजमहल के केयरटेकर का कहना है कि कुल्पो के पास एक थैली थी जिसमें उन्होंने अपने सैंडल रखे थे. फिर उन्होंने इन सैंडल को डायना सीट पर रखा जो अपमान से कम नहीं है. मुंबई के अखबार मिडडे के मुताबिक ताज महल के बाहर सुरक्षा कर्मचारी ओलिवियो कुल्पो को देखकर उन्हें खुश करने में लग गए और उन्हें अपनी थैली भी ताज महल के अंदर ले जाने दी.

कुल्पो की तरफ से इस मामले में कोई बयान जारी नहीं किया गया है. इस सब के बावजूद मामले का अदालत तक पहुंचना मुश्किल है और ज्यादा से ज्यादा यह होगा कि कुल्पो को जुर्माना भरना पड़ेगा. ओलिविया कुल्पो ने ताज महल की सैर के बाद अपना फोटो इंटरनेट पर भी जारी किया. जाहिर है उन्हें ताज महल को अपमानित करने का एहसास नहीं हुआ.

रिपोर्टः एमजी/एनआर(एएफपी)

DW.COM

विज्ञापन