1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

तुर्की के पत्रकारों का संघर्ष

दुनिया भर में अखबार और पत्रिकाएं इंटरनेट युग में जिंदा रहने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. राष्ट्रपति एर्दोवान के तुर्की के पत्रकारों पर बाजार के अलावा राजनीतिक दबाव भी है. लेकिन कुछ बहादुर पत्रकार झुकने को तैयार नहीं.

वीडियो देखें 03:29

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए

एर्दोवान का तुर्की

तुर्की में हुए जनमत संग्रह को बारीक अंतर से मिली जनता की मंजूरी को राष्ट्रपति रैचेप तैयप एर्दोवान ने "ऐतिहासिक फैसला" बताया है. इससे देश की व्यवस्था में क्या बदलाव आएगा, जानिए.

DW.COM

इससे जुड़े ऑडियो, वीडियो

संबंधित सामग्री