दुनिया

कार्ल मार्क्स: मोजेल का उस्ताद

कार्ल मार्क्स की गिनती निश्चित रूप से जर्मनी के सबसे महान दार्शनिकों में होती हैं. लेकिन अगर कार्ल मार्क्स आज जिंदा होते तो क्या उन्हें अपना काम पंसद आता? उन्होंने कुछ ही शर्तों में एक हाथ में ताकत की बात कही थी.