कोरिया के भीतर बसी दो तरह की दुनिया | ताना बाना | DW | 16.08.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

कोरिया के भीतर बसी दो तरह की दुनिया

दूसरा विश्व युद्ध खत्म होने के समय से ही कोरिया बंटा हुआ है. एक हिस्सा रूसी और दूसरा अमेरिकी प्रभाव में रहा. फिर 1950 के दशक के कोरियाई युद्ध ने इस तरह के विभाजन को और बल दिया. विभाजन रेखा पर बसे गांवों में ऐसा है जीवन.

लेफ्ट लिबरल माने जाने वाले मून जे इन दक्षिण कोरिया के नये राष्ट्रपति बने हैं. मून का जोर अर्थव्यवस्था और उत्तर कोरिया के साथ संबंध बहाली पर रहेगा. लेकिन इनके बीच संबंध बहाली आसान नहीं. एक नजर पूरे विवाद पर.

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन