1. कंटेंट पर जाएं
  2. मेन्यू पर जाएं
  3. डीडब्ल्यू की अन्य साइट देखें
तस्वीर: Darko Vojinovic/AP/dpa/picture alliance

अमेरिकी सीनेट ने पुतिन को युद्ध अपराधी माना

१६ मार्च २०२२

यूक्रेन पर रूस के हमले के बीच अमेरिकी सीनेट ने मंगलवार को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को युद्ध अपराधी घोषित करने से जुड़ा एक प्रस्ताव पारित किया है. जेलेंस्की ने कहा कि रूस के साथ वार्ता अब अधिक यथार्थवादी दिखती है.

https://www.dw.com/hi/us-senate-approves-resolution-probing-putin-for-war-crimes/a-61141507

यूक्रेन और यूक्रेन के बीच युद्ध अब 21वें दिन में दाखिल हो चुका है. यूक्रेन के कई शहरों में लड़ाई अभी भी जारी है. रूस पर दबाव बढ़ाते हुए अमेरिकी सीनेट ने राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को युद्ध अपराधी मानने वाले एक प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित किया. रिपब्लिकन सीनेटर लिंडसे ग्राहम द्वारा पेश किए गए और दोनों पक्षों के सीनेटरों द्वारा समर्थित इस प्रस्ताव ने हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय (आईसीसी) को रूस के यूक्रेन पर हमले के दौरान किए गए युद्ध अपराधों की जांच करने के लिए प्रोत्साहित किया है.

डेमोक्रेटिक सीनेटर चक शूमर ने सीनेट में अपने भाषण में कहा, "इस कक्ष में मौजूद हम सभी डेमोक्रेट और रिपब्लिकन साथ मिलकर कहते हैं कि व्लादिमीर पुतिन यूक्रेनी लोगों के खिलाफ किए गए अत्याचारों के लिए जवाबदेही से बच नहीं सकते."

कीव में रूसी हमले के बाद तबाह इमारत के पास खड़े बचाव दल के सदस्य
कीव में रूसी हमले के बाद तबाह इमारत के पास खड़े बचाव दल के सदस्य तस्वीर: State Emergency Service of Ukraine/REUTERS

यूक्रेन में बुधवार सुबह कई शहरों में हवाई सायरन भी सुना गया. ये सायरन लोगों को संभावित मिसाइल हमलों की चेतावनी देने के लिए होते हैं ताकि वे कहीं सुरक्षित जगहों पर शरण ले सकें. राजधानी कीव में भारी गोलाबारी हो रही है, इसलिए शहर में 35 घंटे से कर्फ्यू लगा हुआ है. मंगलवार को यहां हवाई हमलों में कम से कम पांच लोग मारे गए. यूक्रेन के अधिकारियों का कहना है कि देश के दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव में सुरक्षा बलों ने मंगलवार को रूस के हमले को नाकाम कर दिया.

भारत के लिए दोधारी तलवार बन गया है यूक्रेन-रूस युद्ध

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि 24 फरवरी को युद्ध शुरू होने के बाद से हर दिन लगभग 70,000 बच्चे शरणार्थी बन गए हैं, जबकि यूक्रेन से भागने वाले शरणार्थियों की कुल संख्या 30 लाख से अधिक हो गई है.

वार्ता में प्रगति 

यूक्रेन और रूस के प्रतिनिधिमंडलों के बीच मंगलवार को चौथे दौर की वार्ता में कुछ प्रगति की रिपोर्टें हैं. यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की का कहना है कि बातचीत अब "अधिक यथार्थवादी" लगती है. जेलेंस्की ने मंगलवार को लंदन में यूरोपीय नेताओं की बैठक में देश पर नो-फ्लाई जोन को लागू करने का फिर से आग्रह करते हुए कहा कि उन्होंने महसूस किया कि नाटो का अब यूक्रेन को स्वीकार करने का कोई इरादा नहीं है.

दोनों देशों के बीच मंगलवार को हुई वार्ता के बाद यूक्रेन के राष्ट्रपति ने बुधवार को एक वीडियो संदेश में कहा कि रूस की मांगें अब "अधिक यथार्थवादी" होती जा रही हैं. बुधवार को दोनों पक्षों की फिर मुलाकात होने की संभावना है. इस बीच जेलेंस्की बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अमेरिकी कांग्रेस को संबोधित करने वाले हैं. उन्होंने कुछ महीने पहले अमेरिकी कांग्रेस को संबोधित किया था और यह उनका दूसरा संबोधन होगा.

रूसी टीवी चैनल पर लाइव शो में चली आई युद्ध विरोधी प्रदर्शनकारी

जेलेंस्की के संबोधन के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन यूक्रेन की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त 80 करोड़ डॉलर की सहायता की घोषणा करने वाले हैं. वहीं जर्मन चांसलर ओलाफ शॉल्त्स ने कहा है कि कोई भी नाटो और रूस के बीच सीधा सैन्य टकराव नहीं चाहता है. उनका कहना है कि प्रतिबंध पहले से ही मॉस्को को इतने कड़े झटके दे रहे हैं जिसकी कल्पना क्रेमलिन ने नहीं की थी.

इस बीच यूक्रेन का कहना है कि मंगलवार को लगभग 20,000 लोग मारियोपोल से भागने में सफल रहे.

एए/सीके (रॉयटर्स, डीपीए, एएफपी)

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी को स्किप करें

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी

मागनुस कार्लसन और हैंस नीमान

शतरंज में उठ खड़ा हुआ है धोखाधड़ी का तूफान

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें को स्किप करें

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें

होम पेज पर जाएं