अमेरिका: दो हफ्तों में बढ़ सकता है मरने वालों का आंकड़ा | दुनिया | DW | 30.03.2020
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

अमेरिका: दो हफ्तों में बढ़ सकता है मरने वालों का आंकड़ा

कोरोना वायरस से संक्रमण का प्रकोप अमेरिका के लिए भयावह साबित हो सकता है. अमेरिकी प्रशासन ने देश में इस महामारी के कारण एक से दो लाख लोगों के मरने की आशंका जताई है.

अमेरिका में कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते मामलों के चलते राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने सोशल डिस्टेंसिंग दिशा-निर्देशों को 30 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया है. सोशल डिस्टेंसिंग या सामाजिक दूरी के तहत आपस में लोगों को दूरी बनानी होती है, ताकि संक्रामक बीमारी के प्रसार को रोका जा सके. राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने

व्हाइट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए इस बात की जानकारी दी. ट्रंप ने कहा, "हम अपनी गाइडलालंस को 30 अप्रैल तक बढ़ाने जा रहे हैं. ताकि इस वायरस के फैलाव को धीमा किया जा सके." साथ ही ट्रंप ने कहा कि मंगलवार को वह अपनी इस योजना को अंतिम रूप दे देंगे और अमेरिकी लोगों के लिए जरूरी तमाम चीजों और नीतियों के बारे में विस्तार से बताएंगे. ट्रंप प्रशासन ने 16 मार्च से अपने देश में सोशल डिस्टेंसिंग के दिशा-निर्देश जारी किये थे, ताकि इस वायरस को फैलने से रोका जा सके. ट्रंप ने कहा, "मॉडलिंग के अनुमान के मुताबिक दो हफ्ते में मृत्यु दर के चरम पर पहुंचने की संभावना है."

देशवासियों को भरोसा दिलाते हुए उन्होंने उम्मीद जताई कि अमेरिका में 1 जून तक सब ठीक हो जाएगा. जॉन्स होप्किंस कोरोना वायरस ट्रैकर के मुताबिक अमेरिका में एक लाख 42 हजार से अधिक मामलों की पुष्टि हो चुकी है जबकि देश में अब तक 2,484 लोगों की मौत हो चुकी है. अमेरिका में न्यू यॉर्क सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है. यहां 24 घंटे में संक्रमण के 7,200 नए मामले सामने आ चुके हैं. इसके साथ ही संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 59 हजार से ज्यादा हो गई है. इनमें सिर्फ न्यू यॉर्क शहर में 33,768 मामले हैं. न्यू यॉर्क शहर में वायरस बहुत ही तेजी से लोगों को संक्रमित कर रहा है और पूरे देश के मुकाबले में यहां मौत भी अधिक हो रही है. न्यू यॉर्क शहर में एक मार्च को कोविड-19 का पहला मामला सामने आया था. ईरान से लौटे एक स्वास्थ्यकर्मी में कोविड-19 की पुष्टि हुई थी.

दूसरी ओर अमेरिका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इन्फेक्शियस डिसीज के निदेशक एंथनी फॉकी का कहना है कि कोविड-19 संक्रमण के कारण देश में दसियों लाख संक्रमित हो सकते है. उनके मुताबिक, ‘‘हम जो आज देख रहे हैं, उसके मद्देनजर कोरोना वायरस से एक लाख से दो लाख लोगों की मौत हो सकती हैं. हम संक्रमण के दसियों लाख मामले देखेंगे."

एए/सीके (एएफपी, रॉयटर्स)

__________________________

हमसे जुड़ें: Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

 

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन