1. कंटेंट पर जाएं
  2. मेन्यू पर जाएं
  3. डीडब्ल्यू की अन्य साइट देखें
Indien BG | Smog Umweltverschmutzung COP26
तस्वीर: ANUSHREE FADNAVIS/REUTERS

दिल्ली में प्रदूषण के खिलाफ और सख्त कदम

चारु कार्तिकेय
१७ नवम्बर २०२१

दिल्ली एनसीआर इलाके में वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए और भी कड़े कदमों की घोषणा की गई है. दिल्ली सरकार ने कहा है कि वो वीकेंड पर लॉकडाउन लगाने के लिए भी तैयार है.

https://www.dw.com/hi/several-measures-to-counter-pollution-in-delhi-ncr/a-59841870

वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग ने मंगलवार 16 नवंबर की रात दिल्ली एनसीआर इलाके में बढ़ते वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए नए निर्देश दिए. दिल्ली और आसपास के सभी शहरों में स्कूल और कॉलेज अगले आदेश तक बंद रहेंगे.

इसके अलावा एनसीआर के सभी राज्यों यानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, और राजस्थान में 21 नवंबर तक सभी निर्माण संबंधी गतिविधियों पर रोक लगा दी गई है. एनसीआर के 300 किलोमीटर के दायरे में सक्रिय कोयले से चलने वाले 11 बिजली के संयंत्रों में से सिर्फ पांच चलते रहेंगे और बाकियों को फिलहाल बंद कर दिया जाएगा.

औद्योगिक प्रदूषण पर भी लगाम

दिल्ली में सिर्फ आवश्यक वस्तुओं को लाने वाले ट्रकों को आने की अनुमति दी जाएगी. इसके अलावा बाकी सभी तरह के ट्रकों के दिल्ली में प्रवेश पर 21 नवंबर तक बैन रहेगा. एनसीआर में राज्य सरकारों को कहा गया है की वो 50 फीसदी कर्मचारियों से घर से काम कराएं और निजी क्षेत्र के दफ्तरों को भी ऐसा करने के लिए प्रोत्साहित करें.

Indien BG | Smog Umweltverschmutzung COP26
दिल्ली में स्मॉग की चादर से ढंका राष्ट्रपति भवनतस्वीर: Imtiyaz Khan/AA/picture alliance

इस दौरान अगर कोई व्यक्ति या संस्था खुले में निर्माण सामग्री का ढेर लगाते हुए पाई गई तो उस पर कड़ा जुर्माना लगाया जाएगा. सड़कों पर कचरा फेंकने के लिए भी कड़ा जुर्माना लगाया जाएगा. सरकारों को सड़कों की सफाई करने वाली मशीनों की संख्या बढ़ाने के लिए भी कहा गया है.

इलाके में मौजूद गैस से चलने की क्षमता वाले सभी उद्योगों से कहा गया है कि वो अपना परिचालन गैस पर ही करें अन्यथा उन्हें बंद कर दिया जाएगा. बिना स्वीकृति प्राप्त ईंधनों पर चलने वाले उद्योगों को बंद करने का निर्देश दिया गया है.

लॉकडाउन का प्रस्ताव

10 सालों से ज्यादा पुराने डीजल वाहनों और 15 सालों से ज्यादा पुराने पेट्रोल वाहनों को सड़क पर चलने की अनुमति नहीं दी जाएगी. दिल्ली सरकार को जल्द से जल्द पर्याप्त संख्या में सीएनजी बसें सड़कों पर उतारने के लिए कहा गया है.

Indien BG | Smog Umweltverschmutzung COP26
स्मॉग के बीच लोधी गार्डन में सुबह की सैर करते लोगतस्वीर: ANUSHREE FADNAVIS/REUTERS

इसके अलावा एनसीआर राज्यों को आपात सेवाएं छोड़ कर बाकी सभी जगह डीजल के जनरेटरों के इस्तेमाल को प्रतिबंधित करने के लिए भी कहा गया है. इन सभी निर्देशों को सुप्रीम कोर्ट के सामने पेश किया गया है.

अदालत 17 साल के ऐक्टिविस्ट आदित्य दुबे द्वारा प्रदूषण की समस्या पर दायर किए गए एक मुकदमे पर सुनवाई कर रही है. दिल्ली सरकार अदालत को पूरे एनसीआर में लॉकडाउन लगाने का प्रस्ताव दे चुकी है. सरकार ने अदालत को वीकेंड पर लॉकडाउन लगाने का ताजा प्रस्ताव दिया है.

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी को स्किप करें

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी

यूक्रेन के विभाजन का एलान करते रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन

टूटते यूक्रेन पर हमला, रूस पर हमला माना जाएगा: रूस

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें को स्किप करें

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें

होम पेज पर जाएं