रूसी फिल्म ने छेड़ी प्रोपेगैंडा की बहस | ताना बाना | DW | 05.10.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

रूसी फिल्म ने छेड़ी प्रोपेगैंडा की बहस

एक रूसी फिल्म बॉक्स ऑफिस पर तहलका मचा रही है. फिल्म क्रीमिया के अधिग्रहण की पृष्ठभूमि में एक प्रेम कहानी कहती है. आलोचकों का कहना है कि सरकारी अनुदान से बनी फिल्म प्रोपेगैंडा फिल्म है.

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को आपने विश्व नेताओं के साथ खूब देखा होगा. शायद छुट्टियां मनाते हुए उनकी दबंग तस्वीरें भी आपने देखी हों. लेकिन क्या आप उनके परिवार से मिले हैं? 

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन