यूएई के उपग्रह प्रक्षेपण में असफल रहे वेगा रॉकेट की होगी स्वतंत्र जांच | दुनिया | DW | 15.07.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

यूएई के उपग्रह प्रक्षेपण में असफल रहे वेगा रॉकेट की होगी स्वतंत्र जांच

फ्रांस और यूएई के बीच हुए समझौते के तहत यूरोपीयन स्पेस एजेंसी द्वारा लॉन्च किए जा रहे उपग्रह के असफल परीक्षण की जांच की जाएगी. इस असफल प्रक्षेपण में सैकड़ों करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है.

संयुक्त अरब अमीरात के एक सैन्य निगरानी उपग्रह को लेकर उड़ रहे यूरोपियन वेगा रॉकेट के असफल होने के मामले की जांच शुरू हो गई है. 11 जुलाई को वेगा रॉकेट ने उड़ान भरी थी लेकिन इसके कुछ समय बाद ही इसमें धमाका हो गया था. यूरोपियन वेगा रॉकेट एक प्रक्षेपण प्रणाली है जिसे इटैलियन स्पेस एजेंसी और यूरीपीयन स्पेस एजेंसी ने मिलकर विकसित किया है. इसने पहली उड़ान 13 फरवरी 2012 को भरी थी. इसका उपयोग 300 से 2,500 किलो वजन के छोटे और कम वजनी उपग्रहों को पृथ्वी की निचली और ध्रुवीय कक्षाओं में स्थापित करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

11 जुलाई को उड़ान भरने वाले इस रॉकेट से फाल्कन आई वन निगरानी उपग्रह का प्रक्षेपण किया गया था. यह प्रक्षेपण फ्रेंच गुएना के अंतरिक्ष स्टेशन से स्थानीय समय अनुसार रात को 10 बजकर 53 मिनट पर किया गया. इस प्रक्षेपण के असफल होने से कई सौ करोड़ का नुकसान हुआ है.

रॉकेट के उड़ान भरने के दो मिनट बाद से ही इस मिशन के अधिकारियों को किसी गड़बड़ी की आशंका दिखने लगी. दूसरे चरण का इग्निशन होने के बाद पता चल गया कि कोई तकनीकी खराबी आ गई है.

मिशन के एक कंट्रोलर ने कहा कि रॉकेट का टेलिमेंटरी डाटा नहीं मिला है. लॉन्च होने के बाद तकनीकी कमी सामने आने पर जमीन पर बने कंट्रोल स्टेशन से उसे ठीक करने के प्रयास किए गए. हालांकि यह कोई बड़ी कमी थी जो ठीक नहीं की जा सकी. यूरोपीयन स्पेस एजेंसी और सेटेलाइट लॉन्चिंग कंपनी एरियानास्पेस ने संयुक्त अरब अमीरात से उनके नुकसान के लिए माफी भी मांगी है. यूरोपीयन स्पेस एजेंसी और एरियानास्पेस ने संयुक्त बयान जारी कर इस घटना की जांच के लिए स्वतंत्र जांच टीम गठित करने की घोषणा की.

यूरोपीयन स्पेस एजेंसी वेगा रॉकेट से पृथ्वी की निचली कक्षाओं में उपग्रह स्थापित करने के 14 मिशन पूरे कर चुकी है. ये इस एजेंसी की वेगा रॉकेट के साथ पहली असफलता है. इस उपग्रह का प्रक्षेपण खराब मौसम के चलते पहले दो बार टाल दिया गया था. एरियानास्पेस ने कहा कि जांच की रिपोर्ट आने तक वेगा रॉकेट द्वारा होने वाले सभी प्रक्षेपण टाल दिए गए हैं. लेकिन बड़े एरियान 5 रॉकेट के प्रक्षेपण की तैयारियां जारी रहेंगी.

फाल्कन आई वन संयुक्त अरब अमीरात और फ्रांस के बीच हुए दो सैन्य निगरानी उपग्रह प्रक्षेपित करने के कार्यक्रम का हिस्सा है. इसके तहत फ्रांस संयुक्त अरब अमीरात के दो उपग्रह प्रक्षेपित करेगा. लेकिन इसका पहला प्रक्षेपण ही असफल हो गया है. संयुक्त अरब अमीरात ने इस पर कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं दी है.

आरएस/आरपी (रॉयटर्स)

_______________

हमसे जुड़ें: WhatsApp | Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

DW.COM

विज्ञापन