मिलिए जो बाइडेन के पूरे परिवार से | दुनिया | DW | 18.01.2021
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

मिलिए जो बाइडेन के पूरे परिवार से

जो बाइडेन के लंबे राजनीतिक करियर में उनका परिवार हमेशा उनके साथ दिखा है. खास कर पत्नी जिल बाइडेन, जो हमेशा उनकी सबसे बड़ी समर्थक के रूप में उनके साथ खड़ी रही हैं. जानिए, कौन कौन है जो बाइडेन के परिवार में. 

जो बाइडेन और उनकी पत्नी जिल बाइडेन की जोड़ी को अमेरिका में 'जो एंड जिल' के नाम से जाना जाता है. जो 78 और जिल 69 साल की हैं. लेकिन उम्र इन दोनों के लिए महज एक संख्या है. दोनों अकसर साथ मिल कर जॉगिंग और वर्क आउट करते दिखते हैं.

नौकरी नहीं छोड़ेंगी 

जिल बाइडेन पेशे से अंग्रेजी की प्रोफेसर हैं. उनके स्टूडेंट उन्हें प्यार से डॉक्टर बी कहते हैं. अमेरिका में यूं तो प्रथम महिला से यह उम्मीद की जाती है कि वह खुद कोई नौकरी नहीं करेगी, बल्कि अपने पति का साथ देगी. पति बतौर राष्ट्रपति राजनीति संभालेगा और पत्नी सामाजिक काम. लेकिन जिल बाइडेन ने कहा है कि वह अपनी नौकरी नहीं छोड़ेंगी और ऐसा करके वे अमेरिका में एक बड़ा बदलाव ला रही हैं.

जिल बाइडेन के लिए व्हाइट हाउस नया नहीं है. ओबामा प्रशासन में जो बाइडेन उपराष्ट्रपति थे. जिल बाइडेन उस दौरान प्रथम महिला मिशेल ओबामा की करीबी थीं. मिशेल ओबामा ने भी प्रथम महिला के किरदार को बदलने में बड़ी भूमिका निभाई थी, फिर चाहे वह सामाजिक प्रोजेक्ट के चुनाव की बात हो या उनका लिबास. अब नौकरी जारी रखकर जिल बाइडेन भी प्रथम महिला को एक आम अमेरिकी नागरिक के रूप में पेश करना चाहती हैं.

BG Jill Biden | Michelle Obama 2008

मिशेल ओबामा की करीबी हैं जिल बाइडेन

पहली पत्नी का निधन

जिल बाइडेन जो बाइडेन की दूसरी पत्नी हैं. पहली पत्नी नीलिया की 1972 में एक दुर्घटना में जान चली गई थी. वे अपने तीनों बच्चों के साथ क्रिसमस ट्री खरीदने जा रही थीं जब एक ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मारी. इस हादसे में बाइडेन की पत्नी और एक साल की बेटी का निधन हो गया था. बेटों बो और हंटर को चोटें आईं.

इस हादसे के कुछ साल बाद 1975 में जो बाइडेन की मुलाकात जिल से हुई और दो साल बाद इन्होंने शादी कर ली. जिल और जो बाइडेन की एक बेटी है, ऐश्ली. शादी के बाद जिल बाइडेन ने मास्टर्स की दो डिग्रियां हासिल कीं और पीएचडी भी की. जो बाइडेन के राजनीतिक करियर में उनकी पत्नी हमेशा उनकी सबसे बड़ी समर्थक के रूप में दिखी हैं. बेटी ऐश्ली बाइडेन एक जानी-मानी सोशल वर्कर और फैशन डिजाइनर हैं.

USA Politiker Joe Biden | Ehefrau Jill

1972 से साथ हैं जिल और जो बाइडेन

बेटे की मौत

बेटे बो बाइडेन को राजनीतिक रूप से जो बाइडेन के उत्तराधिकारी के रूप में देखा जाता था. वह सेना में भर्ती हुए, इराक होकर आए और बाद में पिता के शहर डेलेवेयर में अटॉर्नी जनरल बने. लेकिन 2015 में ब्रेन कैंसर से उनकी जान चली गई. बो की उम्र तब 46 साल की थी. मौत से दो साल पहले ही उन्हें अपनी बीमारी के बारे में पता चला था. बाइडेन अकसर अपने भाषणों में अपने बेटे का जिक्र करते हैं.

बाइडेन के दूसरे बेटे हंटर अकसर सुर्खियों में रहे हैं लेकिन गलत कारणों से. उन्हें शराब और नशीले पदार्थों की लत रही है. डॉनल्ड ट्रंप यूक्रेन और चीन के मुद्दों पर हंटर का नाम लेते रहे हैं. 50 वर्षीय हंटर आर्टिस्ट हैं और लॉस एंजेलेस में रहते हैं. पिता से अलग वे राजनीति से दूर हैं और ट्रंप के आरोपों के जवाब में कह चुके हैं कि बिजनेस में उन्होंने कई बार बुरे फैसले लिए हैं लेकिन जानबूझ कर कुछ गलत नहीं किया है.

अमेरिकी चुनावों से पहले बाइडेन और ट्रंप के बीच हुई डिबेट में भी डॉनल्ड ट्रंप ने हंटर की कोकेन की लत का जिक्र किया था, जिस पर जो बाइडेन ने कहा था, "मुझे उस पर नाज है. मैं अपने बेटे पर गर्व करता हूं."

Haustiere der Präsidenten der USA

जर्मन शेफर्ड कुत्ते 'मेजर' के साथ बाइडेन

कुत्तों से बाइडेन का लगाव

पारंपरिक रूप से व्हाइट हाउस में अमेरिकी राष्ट्रपति अपने परिवार के साथ साथ अपने कुत्ते भी लेकर आते हैं. पिछली एक सदी में डॉनल्ड ट्रंप पहले ऐसे अमेरिकी राष्ट्रपति थे जिनके पास कोई कुत्ता नहीं था. उनके उलट बाइडेन के पास दो कुत्ते हैं. दोनों जर्मन शेफर्ड हैं. एक का नाम है चैम्प और दूसरे का मेजर.

मेजर 2018 से बाइडेन परिवार के साथ है, जबकि चैम्प 2008 से. ये दोनों ही कुत्ते बाइडेन के इलेक्शन कैम्पेन में खूब देखे गए हैं. एक पोस्टर में बाइडेन अपने इन दोनों कुत्तों के साथ दिखे, जिस पर ट्रंप पर तंज कसते हुए लिखा गया था: अपना इंसान ध्यान से चुनें. इनके अलावा एक बिल्ली भी साथ आ रही है जिसकी नस्ल और नाम के बारे में अभी जानकारी नहीं दी गई है.

ईशा भाटिया (एएफपी)  

__________________________

हमसे जुड़ें: Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

वीडियो देखें 04:56

जो बाइडेन: चुनावी जीत के बाद दिलों को जीतने की चुनौती

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन