1. कंटेंट पर जाएं
  2. मेन्यू पर जाएं
  3. डीडब्ल्यू की अन्य साइट देखें
बम शेल्टर में छिपे इस्राएल के लोग
बम शेल्टर में छिपे इस्राएल के लोगतस्वीर: Tsafrir Abayov/AP Photo(picture alliance
राजनीतिइस्राएल

इस्लामिक जिहाद और इस्राएल के बीच युद्ध विराम

७ अगस्त २०२२

तीन दिन में 40 से ज्यादा मौतों और सैकड़ों लोगों के घायल होने के बाद इस्राएल और इस्लामिक जिहाद के बीच युद्ध विराम हो गया है. मिस्र की मध्यस्थता से दोनों पक्ष युद्ध विराम पर राजी हुए.

https://www.dw.com/hi/israel-gaza-militants-islamic-jihad-agree-to-egypt-brokered-cease-fire/a-62737062

इस्राएल के कार्यवाहक प्रधानमंत्री याइर लापिड के कार्यालय ने इस बात की पुष्टि की है कि फलस्तीनी उग्रवादी संगठन के साथ युद्ध विराम पर समझौता हो गया है. तीन दिन की गोलाबारी और 40 से ज्यादा मौतों के बाद यह युद्ध विराम हुआ है. इससे पहले फलस्तीनी संगठन इस्लामिक जिहाद ने ऐलान किया था कि वह मिस्र की मध्यस्थता से संभव हुए युद्ध विराम पर सहमत है.

शुक्रवार को इस्राएल ने ‘ब्रेकिंग डॉन' नाम का यह सैन्य अभियान शुरू किया था. इस दौरान उसके हवाई हमलों में इस्लामिक जिहाद के कई सदस्य मारे गए जिनमें खालिद मंसूर और तैसीर अल-जाबरी जैसे बड़े कमांडर शामिल हैं. इस्राएल का दावा है कि ये दोनों कमांडर आतंकवादी हमलों की योजना बना रहे थे.

फलस्तीन के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इस्राएल के हमलों में अब तक 41 लोगों की जान गई है जिनमें कई बच्चे भी शामिल हैं. उधर इस्राएल का कहना है कि बच्चों की मौत गलती से दागे गए इस्लामिक जिहाद के एक रॉकेट हमले में हुई. गजा के अधिकारियों के मुताबिक अब तक 311 लोग घायल हुए हैं.

फलस्तीनी उग्रवादियों ने इस्राएल के शहरों पर सैकड़ों रॉकेट दागे जिनमें तेल अवीव और अश्केलोन भी शामिल हैं. अब तक दो इस्राएलियों के घायल होने की खबर है. रॉकेट हमलों के कारण आग लगने से कई लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना पड़ा.

इस्राएल का आयरन डोम
इस्राएल का आयरन डोमतस्वीर: Adel Hana/AP Photo/picture alliance

गजा पर शासन करने वाले संगठन हमास ने खुद को इस पूरे घटनाक्रम से बाहर रखा है. हमास और इस्लामिक जिहाद, दोनों को ही कई पश्चिमी देशों ने आतंकवादी संगठन घोषित कर रखा है.

अमेरिका और यूरोपीय संघ समेत कई देशों ने दोनों पक्षों से तनाव को कम करने की अपील की है. मिस्र ने दोनों पक्षों के बीच समझौता कराने में मध्यस्थता की. पिछले साल भी मिस्र की मध्यस्थता पर ही इस्राएल और हमास के बीच 11 दिन तक चला युद्ध रुक पाया था.

गजा में मानवीय संकट

ताजा युद्ध के चलते गजा में जारी मानवीय संकट और बढ़ गया है. इलाके के शिफा अस्पताल के प्रमुख ने बताया कि हर मिनट घायल लोग पहुंच रहे थे. शहर में दवाओं की कमी है और बिजली कटौती भी लगातार हो रही है.

बीते हफ्ते इस्राएल ने गजा से आने जाने का रास्ता बंद कर दिया था. शनिवार को ईंधन की कमी के कारण गजा का एकमात्र बिजली संयंत्र भी बंद करना पड़ा था. गजा के स्वास्थ्य विभाग ने चेतावनी दी है कि बिजली की कमी के कारण मंगलवार से स्वास्थ्य सेवाएं बंद करनी होंगी.

संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि बिजली की कमी का असर पानी की सप्लाई पर भी होगा और जल संकट मानवीय आपदा को और गंभीर कर सकता है.

वीके/एए (एएफपी, रॉयटर्स)

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी को स्किप करें

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी

जापान के ऊपर से गुजरी उत्तर कोरिया की मिसाइल

उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण से जापान में हड़कंप

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें को स्किप करें

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें

होम पेज पर जाएं