अमेरिका में एक सिख ने पकड़वाया धमाकों का संदिग्ध | दुनिया | DW | 20.09.2016
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

अमेरिका में एक सिख ने पकड़वाया धमाकों का संदिग्ध

अमेरिका के न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी में पिछले दिनों हुए धमाकों के सिलसिले में वांछित अफगान मूल के एक संदिग्ध को पकड़वाने में एक सिख बार मालिक ने अहम भूमिका निभाई. इसके बाद हरिंदर बैंस को एक हीरो बताया जा रहा है.

न्यूयॉर्क के लिंडेन में बार चलाने वाले हरिंदर का कहना है कि खान रहीमी सोमवार को उनके बार के दरवाजे पर सो रहा था. उनके मुताबिक वह सड़क के दूसरी तरफ अपनी एक अन्य दुकान में लैपटॉप पर खबरें देख रहे थे. पहले उन्होंने सोचा कि कोई आदमी पिए हुए हैं और वहां आराम कर रहा है लेकिन जल्द ही उन्होंने रहीमी को पहचान लिया और पुलिस को बुलाया.

बैंस ने कहा, “मैं तो एक आम नागरिक हूं और मैं वही कर रहा था जो हर किसी को करना चाहिए. असली हीरो तो पुलिस और कानून को लागू करने वाली एजेंसियां हैं.” पुलिस को वहां देखकर रहीमी ने बंदूक निकाली और वह गोली चलाने लगा. गोली एक अफसर की छाती में लगी.

देखिए, कूल ओबामा की बिंदास तस्वीरें

पुलिस उसके पीछे भागी तो उसने पुलिस की गाड़ी पर भी गोली चलाई जिससे एक अन्य अफसर को चेहरे पर हल्की सी चोट आ गई. लेकिन पुलिस ने कई गोलियां दागीं और आखिरकार रहीमी पकड़ में आ गया. उसे सर्जरी के लिए अस्पताल ले जाया गया. एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने पूछताछ की कोशिश की लेकिन रहीमी शुरू में सहयोग नहीं कर रहा था.

भारतीय-अमरीकी वकील रवि बत्रा ने बताया, “बैंस ने विदेशियों और देश में मौजूद दुश्मनों से संविधान को बचाने के लिए ली जाने वाले नागरिक शपथ पर पूरी तरह अमल करने की हिम्मत दिखाई और इसी का नतीजा है कि चेल्सी प्रेशर कुकर बम धमाके के संदिग्ध को एक अन्य प्रवासी ने ही पकड़वाया, एक भारतीय-अमेरिकी सिख हीरो ने पकड़वाया.”

तस्वीरों में, दुनिया के 10 सबसे खतरनाक शहर

नेशनल सिख कैम्पेन नाम की संस्था ने भी बैंस के कदम को बहादुरी और साहस वाला काम बताया है. संस्था की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है, “एक सिख ने न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी के धमाकों में शामिल एक आतंकवादी को पकड़वाया है. उन्होंने अपने इस कारनामे से बहुत से मासूम लोगों की जान बचाने में मदद की है और पुलिस और कानून लागू करने वाली एजेंसियों को इसका पूरा श्रेय दिया. हरिंदर बैंस ने निश्चित पर वही किया जो अमेरिका में हर नागरिक को करना चाहिए. बहादुरी और साहस भरा कारनामा.”

न्यूयॉर्क के चेल्सी इलाके में शनिवार शाम फटे बम से 29 लोग घायल हो गए और आसपास की इमारतों को भी नुकसान पहुंचा. वहीं न्यूयॉर्क की ट्विन सिटी कहे जाने वाले न्यूजर्सी में भी शनिवार को ही कचरे के डिब्बे में एक पाइप बम फटा. इसे डिफ्यूज करने के लिए मरीन कॉर्प के अधिकारी वहां पहुंचते इससे पहले ही विस्फोट हो गया लेकिन कोई हताहत नहीं हुआ.

रिपोर्ट: वीके/एके (पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन