अब जर्मनी में कैसा है ″रेफ्यूजी वेलकम″ का हाल | ताना बाना | DW | 23.06.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

अब जर्मनी में कैसा है "रेफ्यूजी वेलकम" का हाल

जर्मनी के वेगशाइड में खुली बांहों से वेलकम किये गये चार सीरियाई परिवारों को अब भी वहां रहना अच्छा लगता है. लेकिन उस समय से माहौल में आये कुछ बदलावों के लिए वे राजनीति को जिम्मेदार मानते हैं. देखिए.

सीरिया में युद्ध की भयावहता से बचने के लिए कई सारियाई तमाम खतरों का सामना करते हुए किसी तरह यूरोप पहुंचना चाहते हैं. एक नजर इस खतरनाक यात्रा के मुख्य बिंदुओं पर.

 

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन