1. कंटेंट पर जाएं
  2. मेन्यू पर जाएं
  3. डीडब्ल्यू की अन्य साइट देखें

कितनी सही थी मैर्केल की शरणार्थी नीति?

२६ सितम्बर २०२१

साल 2015 में जब लाखों लोगों ने सीरिया से भाग कर यूरोप का रास्ता चुना, तब अंगेला मैर्केल ने उनका स्वागत किया. जहां बाकी देश दरवाजे बंद कर रहे थे, अंगेला मैर्केल ने लोगों की जान बचाना अपनी जिम्मेदारी बताया. इसी दौरान मैर्केल के कहे तीन शब्द, "वियर शाफेन दस" यानी "हम कर सकते हैं" एक बड़े नारे के रूप में उभरे. मैर्केल की शरणार्थी नीति को उनके कार्यकाल के सबसे मुश्किल फैसलों में से एक बताया जाता है.

https://www.dw.com/hi/how-angela-merkel-handled-the-migrant-crisis/video-59249813
डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी को स्किप करें

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी

यूक्रेन के विभाजन का एलान करते रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन

टूटते यूक्रेन पर हमला, रूस पर हमला माना जाएगा: रूस

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें को स्किप करें

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें

होम पेज पर जाएं