क्यों तुर्की में छुट्टी नहीं मनाना चाहते जर्मन | ताना बाना | DW | 03.10.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

क्यों तुर्की में छुट्टी नहीं मनाना चाहते जर्मन

जर्मनी और तुर्की के बीच चल रहे राजनीतिक तनाव के बीच अब जर्मन लोग वहां छुट्टियां बिताने से कतरा रहे हैं. हालांकि रूसी इसका फायदा उठाते हुए दिख रहे हैं.

पुरखों के खेल को जिंदा करते तुर्क

तुर्की के इस्तांबुल में आयोजित होने वाले एथनिक स्पोर्ट्स कल्चरल फेस्टिवल का लक्ष्य ऑटोमन साम्राज्य के समय तुर्की के पुरखों में लोकप्रिय रहे खेलों के प्रति आज के लोगों में दिलचस्पी जगाना है. 

 

 

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन