नोबेल शांति पुरस्कार के लिए भेजा गया डॉनल्ड ट्रंप का नाम | दुनिया | DW | 09.09.2020
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

नोबेल शांति पुरस्कार के लिए भेजा गया डॉनल्ड ट्रंप का नाम

इस्राएल और संयुक्त अरब अमीरात के बीच शांति समझौता कराने के कारण अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप का नाम 2021 के नोबेल शांति पुरस्कार के लिए सुझाया गया है.

अमेरिकी न्यूज चैनल फॉक्स न्यूज के अनुसार नॉर्वे के एक सांसद क्रिस्टियान टिबरिंग ग्येद्दे ने यह नामांकन भेजा है. ग्येद्दे ने फॉक्स न्यूज से बातचीत में कहा, "मुझे लगता है कि नामांकित किए गए बाकी के लोगों की तुलना में उन्होंने (ट्रंप ने) देशों के बीच शांति स्थापित करने के लिए काफी ज्यादा प्रयास किए हैं." ऐसा पहली बार नहीं है जब ग्येद्दे ने ट्रंप का नाम शांति पुरस्कार के लिए भेजा हो. इससे पहले 2018 में भी वे ऐसा कर चुके हैं.

उस वक्त उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के साथ शिखर वार्ता आयोजित करने को ट्रंप की उपलब्धि बताया गया था और उत्तर कोरिया और अमेरिका में बेहतर संबंधों को दुनिया में शांति के लिए एक महत्वपूर्ण कदम भी कहा गया था. हालांकि नामांकन के बाद ट्रंप को शांति पुरस्कार के लिए चुना नहीं गया था. इसके बाद 2019 में जब इथियोपिया के प्रधानमंत्री आबी अहमद को पड़ोसी देश इरिट्रिया के साथ शांति के प्रयासों के लिए नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया, तब ट्रंप ने उन्हें औपचारिक रूप से बधाई देने से भी इंकार कर दिया और कहा कि दोनों अफ्रीकी देशों के बीच शांति स्थापित करने का असली श्रेय उन्हें जाता है.

साल 2020 में नोबेल शांति पुरस्कार के लिए 300 से भी ज्यादा व्यक्तियों और संस्थाओं को नामांकित किया जा चुका है. इतनी बड़ी संख्या में इससे पहले कभी इस पुरस्कार के लिए नामांकन नहीं देखे गए हैं. इस पुरस्कार के लिए कोई भी नामांकन भेज सकता है और नोबेल कमिटी नामांकित लोगों की कोई औपचारिक सूची जारी नहीं करती है. नॉर्वे में बैठी नोबेल कमिटी इन सभी नामांकनों पर चर्चा करती है और विजेता को चुनती है.

2021 के नोबेल शांति पुरस्कार की घोषणा अगले साल अक्टूबर में होगी. ट्रंप से पहले अमेरिका के राष्ट्रपति रहे बराक ओबामा को 2009 में इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

रिपोर्ट: इलियट डगलस/आईबी

__________________________

हमसे जुड़ें: Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन