9/11 का मुक़दमा न्यू यॉर्क में | दुनिया | DW | 14.11.2009
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

9/11 का मुक़दमा न्यू यॉर्क में

11 सितंबर, 2001 के आतंकवादी हमलों के कथित सरगना ख़ालिद शेख़ मोहम्मद और उसके चार कथित साथियों पर न्यू यॉर्क की एक ग़ैरसैनिक अदालत में मुक़दमा चलेगा. यह घोषणा शुक्रवार को अमेरिकी अटॉर्नी जनरल एरिक होल्डर ने की.

ग्वानतामो में हैं आरोपी

ग्वानतामो में हैं आरोपी

होल्डर ने इस विवादास्पद फ़ैसले को उचित ठहराते हुए अमेरिकी न्याय प्रक्रिया में विश्वास व्यक्त किया. उन्होंने कहा, "मुझे इन आरोपियों पर निष्पक्ष मुक़दमा चलाने की अपनी अदालतों की क्षमता में विश्वास है. जैसा कि वे 200 वर्षों से अधिक समय से करती आई हैं." होल्डर ने बताया कि उनका इरादा पांचों कथित षड्यंत्रकारियों के लिए सज़ा ए मौत की मांग करने का है.

इस फ़ैसले का अमेरिकन सिविल लिबर्टीज़ यूनियन जैसे संगठनों ने स्वागत किया है लेकिन रिपब्लिकन सांसद और नेता इसे ग़लत और ग़ैर ज़िम्मेदाराना बता रहे है. रिपब्लिकन सीनेटर जॉन मैकेन ने कहा, "मैं नहीं समझ पा रहा हूं कि एक युद्ध अपराधी को वह अधिकार क्यों दिए जाने चाहिए, जो एक सामान्य अपराधी को."

स्वयं राष्ट्रपति बराक ओबामा की डेमोक्रैटिक पार्टी के सीनेटर जिम वेब ने इस फ़ैसले को ग़लत बताया है.

ओबामा ने टोक्यो में जापानी प्रधानमंत्री के साथ एक पत्रकार सम्मेलन में कहा, "मैं पूरी तरह आश्वस्त हूं कि ख़ालिद शेख़ मोहम्मद पर न्याय की सबसे अधिक कड़ी मांगें लागू की जाएंगी. यह अमेरिकी जनता का आग्रह है. यही मेरी सरकार का आग्रह होगा."

Uigurische Häftlinge auf Guantanamo

ओबामा सरकार के फ़ैसले पर 11 सितंबर के हमलों के शिकार लोगों के संबंधियों में भी फ़ैसले पर दोनों तरह की प्रतिक्रियाएं देखने को मिलीं. उन हमलों में मारे गए एक व्यक्ति के पिता ली लैल्पी ने कहा कि सरकार का यह फ़ैसला संवेदनरहित है. उनका कहना है, "जो घाव कभी नहीं भर पाए हैं, फिर खुल जाएंगे. मैं इस फ़ैसले से आराम महसूस नहीं कर रहा हूं."

हालांकि 11 सितंबर की घटना में अपने पति को गंवा देने वाली क्रिस्टिन ब्राइटवाइज़र वर्ल्ड ट्रेड सेंटर से कुछ ब्लॉक की दूरी पर चलाए जाने वाले इन मुक़दमों के लिए तैयार हैं. वह कहती हैं, "मेरे विचार में न्यू यॉर्क निवासी निश्चित रूप से इस स्थिति से निपटने में बेहद सक्षम हैं. मेरे विचार में यह फ़ैसला हमें न केवल न्यू यॉर्क निवासियों के बल्कि अमेरिकीयों के रूप में पारिभाषित करता है."

कुछ लोग मुक़दमों के दौरान न्यू यॉर्क में सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं. शहर के पुलिस प्रमुख रे कैली ने इन सरोकारों को बेबुनियाद बताया. उन्होंने कहा कि हम निश्चित रूप से किसी भी स्थिति के लिए तैयार हैं.

इन पांच क़ैदियों को ग्वानतानामो से कुछ सप्ताहों के बाद लाया जाएगा क्योंकि अभी उनमें से अधिकतर के ख़िलाफ़ विधिवत आरोप दर्ज नहीं किए गए हैं.

इनमें ख़ालिद शेख़ मोहम्मद के अलावा चार अन्य क़ैदी हैं वलीद बिन अताश, रम्ज़ी बिन अल शिब, मुस्तफ़ा अहमद अल हौसावी और अली अब्दुल अज़ीज़ अली .

अटॉर्नी जनरल होल्डर ने यह घोषणा भी की कि ग्वांतनामो जेल में रखे जा रहे पांच अन्य क़ैदियों पर मुक़दमे सैनिक अदालतों में चलाए जाएंगे. उनमें 2000 में यमन में अमेरिकी पोत यूएसएस कोल के बम विस्फोट का कथित सरगना भी शामिल है.

संबंधित सामग्री

विज्ञापन