30,000 साल पहले भी अमेरिका में रहते थे इंसान | विज्ञान | DW | 23.07.2020
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

विज्ञान

30,000 साल पहले भी अमेरिका में रहते थे इंसान

वैज्ञानिकों का दावा है कि मध्य मेक्सिको की एक गुफा से खुदाई में मिले उपकरण इस बात के पुख्ता सबूत हैं कि कम से कम 30,000 साल पहले इंसान उत्तरी अमेरिका में रहते थे.

अब तक माना जाता रहा है कि उत्तरी अमेरिका में इंसान लगभग 15,000 साल पहले जा कर रहते थे. लेकिन मेक्सिको की एक गुफा में हुई यह नई खोज इसे गलत बता रही है. इस गुफा में पुरातत्वविदों को 1,900 पत्थर के औजारों सहित कई कलाकृतियां मिली हैं जो 20,000 साल से भी ज्यादा पुरानी हैं. विज्ञान पत्रिका नेचर में इस खोज के बारे में विस्तार से बताया गया है. इस अध्ययन के प्रमुख लेखक और यूनिवर्सिडाड ऑटोनोमा दे जाकाटेकास के पुरातत्वविद सिप्रियान  आर्डेनियाल ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया, "हमारे परिणाम इस बात के सबूत पेश करते हैं कि अमेरिका में इंसान प्राचीन काल से रहते आए हैं. उस समय की बहुत कम ही कलाकृतियां मौजूद हैं. लेकिन वे वहां हैं."

जमीन के नीचे पुरानी चीजें मिलने पर रेडियोकार्बन डेटिंग के जरिए उनकी उम्र का पता लगाया जाता है. यहां कुछ ऐसे नमूने मिले हैं जिनकी उम्र 33,000 से 31,000 साल की है. हालांकि यहां इंसानी हड्डियां या डीएनए के कोई निशान नहीं मिले हैं, "ऐसी संभावना है कि इंसान इस जगह का नियमित रूप से इस्तेमाल करते थे." होमो सेपियंस कब और कैसे अमेरिका में पहुंचे, रिसर्चरों के बीच यह हमेशा से बहस का विषय रहा है. माना जाता है कि अमेरिका धरती का वह आखिरी हिस्सा था जहां इंसान पहुंचे थे. शुरुआत अफ्रीका से हुई थी.

इस नए शोध के बाद वैज्ञानिक बंटे हुए दिख रहे हैं. कुछ इसे बेहद विश्वसनीय बता रहे हैं, तो कुछ इस दावे को ही गलत करार दे रहे हैं. आर्डेनियाल इस बारे में कहते हैं, "हर बार ऐसा ही होता है, जब भी कोई 16,000 साल से अधिक पुरानी साइट का पता चलता है, तो पहली प्रतिक्रिया इनकार ही होती है, अगर स्वीकार करते भी हैं तो बहुत मुश्किल से." आर्डेनियाल ने इस गुफा को 2012 में खोजा था लेकिन पुराने औजार उन्हें 2017 में जा कर मिले. फिर इनकी कार्बन डेटिंग में वक्त लगा. लंबी रिसर्च के बाद वे इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि अब तक जितना सोचा जाता रहा है, इंसान उससे कम से कम 15,000 साल पहले ही अमेरिका में थे. ना केवल पुरातत्व के क्षेत्र में, बल्कि भूगोल और इंसानी इतिहास के लिहाज से भी यह एक बहुत बड़ा दावा है.

अब तक ऐसा माना जाता रहा है कि करीब 13,500 साल पहले इंसान मौजूदा रूस से एक जमीनी पुल पार करते हुए अलास्का गए. ये दोनों ही हिस्से बर्फ की चादर से ढंके हुए थे. अलास्का से ही इंसान अमेरिका के बाकी हिस्सों में फैले. ये लोग खास तरह के औजारों का इस्तेमाल करते थे जिनसे ये मैमथ और अन्य प्राचीन जानवरों का शिकार करते थे. इसे क्लोविस संस्कृति के रूप में जाना जाता है, जो उत्तरी अमेरिका में फैली हुई थी और इसे से अलग-अलग जगहों पर मूल अमेरिकी आबादी को जन्म हुआ था. लेकिन पिछले दो दशकों से इस क्लोविस मॉडल पर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं. कई प्राचीन मानव बस्तियों की खोज हुई है, ऐसे औजार मिले हैं जो दिखाते हैं कि इंसान दो या तीन हजार साल पहले से ही वहां थे. इस पर यूनिवर्सिटी ऑफ एल्बर्टा के प्रोफेसर ग्रून का कहना है, "यह स्पष्ट है कि क्लोविस तकनीक के विकास से बहुत पहले ही लोग अमेरिका में रह रहे थे."

आईबी/एए (एएफपी, डीपीए)

__________________________

हमसे जुड़ें: Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

संबंधित सामग्री

विज्ञापन