25 साल पहले चोरी की, अब कीमत चुकाई | ताना बाना | DW | 21.12.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

25 साल पहले चोरी की, अब कीमत चुकाई

अमेरिका में एक चोर को सालों बाद अपनी चोरी पर पछतावा हुआ. बहुत साल पहले उसने पेनसिल्वेनिया के एक सप्लाई स्टोर से हथौड़ी चुराई. अब चोर ने इस हथौड़ी की कीमत चुकाई है. वह खुद तो नहीं आया पर एक लिफाफे में बंद कर पैसे भेज दिए.

default

अमेरिकी कस्बे जॉनस्टाउन के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्टर सप्लाई कंपनी स्टोर को पिछले दिनों के एक लिफाफा मिला. अपने पिता के साथ इस स्टोर को चलाने वाली लिन ग्रैम्बलिंग ने बताया कि लिफाफे में एक पत्र भी है जिसमें कहा गया है, "मैं जानता हूं कि मैंने गलत किया, लेकिन मैंने किया. मैं इस पत्र के साथ 45 डॉलर भेज रहा हूं जो हथौड़ी के दाम से कुछ ज्यादा है. उसे आप ब्याज समझें. मुझे अफसोस है कि मैंने चोरी की, लेकिन अब मैं बदल गया हूं." इस पत्र पर 6 दिसंबर की तारीख लिखी है. यह हथौड़ी 25 से 30 साल पहले चुराई गई थी.

50 साल पहले जब लिन के परिवार से यह स्टोर खरीदा, तब से न जाने कितनी चीजें गुम हुई हैं, लेकिन वह बताती है कि यह पहला मौका जब किसी व्यक्ति ने चुराई हुई चीज का दाम चुकाया है. वह कहती हैं कि जैसे ही यह लिफाफा मिला, वह तुरंत पास के शॉपिंग मॉल में गईं जहां उनके पिता एक धार्मिक संगठन के लिए स्वयंसेवक के तौर पर काम कर रहे थे.

लिन कहती हैं, "मैं गई और पैसे उनके हाथ में रख दिए. यह पैसे हथौड़ी की कीमत से कहीं अधिक थे. वह बहुत ही सज्जन आदमी था."

रिपोर्टः रॉयटर्स/ए कुमार

संपादनः वी कुमार

DW.COM

WWW-Links

विज्ञापन