हैकिंग के शिकार हुए सैकड़ों जर्मन नेता | दुनिया | DW | 04.01.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

हैकिंग के शिकार हुए सैकड़ों जर्मन नेता

जर्मनी में नेताओं और राजनीतिक दलों की निजी जानकारी लीक हुई है. बर्लिन के एक रेडियो स्टेशन के मुताबिक हैकरों ने एक पार्टी को छोड़कर बाकी दलों पर निशाना साधा है.

जर्मन राजधानी बर्लिन के रेडियो आरबीबी इंफोरेडियो ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि राजनीतिक पार्टियों के अंदरूनी दस्तावेज और सैकड़ों जर्मन नेताओं की निजी जानकारी इंटरनेट पर लीक की गई है. हैकरों ने अति दक्षिणपंथी पार्टी एएफडी को छोड़कर, जर्मन संसद में मौजूद बाकी सभी दलों के दस्तावेज जारी किए हैं. प्रांतीय स्तर के नेता भी हैकिंग के शिकार हुए हैं.

लीक किए दस्तावेजों का पहली बार 3 जनवरी 2019 की पता चला. रेडियो स्टेशन का दावा है कि यह दस्तावेज दिसंबर 2018 की शुरूआत से ही लीक किए जा रहे थे. इन्हें हैम्बर्ग से चलने वाले ट्विटर अकाउंट से रिलीज किया जा रहा था. ट्विटर अकाउंट खुद को सिक्योरिटी रिसर्च, कलाकार और व्यंग्यकार बताता है.

लीक हुए डॉक्यूमेंट्स में राजनेताओं के पते और मोबाइल नंबर भी शामिल हैं. कुछ मामलों में नेताओं के बैंक और फाइनेंस की जानकारी, आईडी कार्ड्स और प्राइवेट चैट भी लीक किए गए हैं.

रिपोर्टों के मुताबिक लीक हुए दस्तावेजों में कोई भी अति संवेदनशील नहीं है. लेकिन इनमें जॉब एप्लिकेशन, पार्टी मेमो और पार्टी मेम्बरों की लिस्ट भी है. कुछ  दस्तावेज साल भर से भी ज्यादा पुराने हैं.

लीक किए गए दस्तावेजों में कोई खास पैटर्न नहीं दिखता. फिलहाल इसके पीछे का छुपे इरादे और लोगों को भी कोई सुराग नहीं है.

(सबसे बुरे पासवर्ड)

क्रिस्टीना बुराक/ओएसजे

 

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन