हीरों के शातिर चोर गिरफ्तार | दुनिया | DW | 09.05.2013
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

हीरों के शातिर चोर गिरफ्तार

पांच मिनट के अंदर तमाम अधिकारियों के सामने से अरबों रुपये के हीरे चुराने वाले गैंग को यूरोप के कई देशों की पुलिस ने गिरफ्तार किया. तीन महीने पहले बेल्जियम में विमान को रुकवा कर हीरे उड़ाए गए.

पुलिस ने बेल्जियम, फ्रांस और स्विट्जरलैंड से 31 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया है. बड़ी मात्रा में हीरे और नकदी भी बरामद की है. बेल्जियम के अभियोजन पक्ष के मुताबिक मुख्य रूप से आठ संदिग्धों ने चोरी को अंजाम दिया. मंगलवार को आठों को फ्रांस में गिरफ्तार किया गया. पूछताछ के बाद कुछ और कड़िया खुलीं और बुधवार को दूसरे देशों में भी गिरफ्तारियां होने लगी.

अभियोजन पक्ष के मुताबिक बेल्जियम पुलिस के 200 अधिकारियों ने बुधवार तड़के से ही देश भर में कई जगहों पर छापे मारने शुरू किए. शाम तक 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया. पुलिस के मुताबिक बड़ी मात्रा में नगदी बरामद हुई.

स्विट्जरलैंड के अभियोजन पक्ष ने भी एक बयान जारी कर कहा कि "एक लाख स्विस फ्रांक और बड़ी संख्या में हीरों का जखीरा जब्त किया गया है. इसकी कीमत का अंदाजा लगाया जा रहा है."

गिरफ्त में आने वाले में एक कारोबारी और जेनेवा का एक वकील है. संदिग्धों पर फिलहाल चोरी के सामान की डीलिंग करने और न्याय की राह में बाधा डालने के आरोप लगाए गए हैं. स्विस अधिकारियों के मुताबिक, "गिरफ्तारियां ब्रसेल्स और जेनेवा के प्रशासन के शानदार तालमेल से हुईं."

Symbolbild Diamanten Diebstahl Raub Belgien Brüssel Flughafen Zaventem

ब्रसेल्स से ले जाए जा रहे थे हीरे

दुनिया की सबसे बड़ी चोरी में दर्ज हो चुकी यह वारदात इसी साल 18 फरवरी को घटी. माना जा रहा है कि चोरों ने हॉलीवुड की फिल्म ओशंस इलेवन की तर्ज पर वारदात को अंजाम दिया. 18 फरवरी की रात बेल्जियम के जावेंटम एयरपोर्ट पर स्विट्जरलैंड का एक यात्री विमान उड़ान भरने को तैयार था. विमान के कार्गो (सामान रखने की जगह) में पांच करोड़ डॉलर यानी करीब पौने तीन अरब रुपये के हीरे जवाहरात थे. लेकिन तभी आठ बजे पुलिस जैसी नीली बत्ती चमकाती हुईं दो काली गाड़ियां रनवे पर खड़े विमान के पास पहुंची. दोनों गाड़ियों से पुलिस की वर्दी पहने हुए आठ लोग उतरे. जांच के नाम पर उन्होंने विमान का कार्गो खुलवाया और हीरे जवाहरातों से भरा बॉक्स उतार कर अपनी गाड़ी में लोड किया और चले गए.

पुलिस के भेष में आए चोर एयरपोर्ट की सुनसान इलाके की तार बाड़ काटकर अंदर घुसे थे. हीरे चुराने के बाद चोर उसी जगह से भाग निकले. इस पूरे काम को पांच मिनट में अंजाम दिया गया. जबकि चोरी की पुष्टि होने में ही तीन-चार घंटे लग गए.

वारदात के बाद असली पुलिस को पूरी तरह जल चुकी एक गाड़ी मिली. पता चला कि सुराग मिटाने के चक्कर में चोरों ने गाड़ी को आग लगाई थी. चोरी के बाद भारी दबाव झेल रही बेल्जियम की पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया. छोटे छोटे सबूतों और संकेतों को फ्रांस और स्विट्जरलैंड की पुलिस के साथ साझा किया गया.

ओएसजे/एमजे (एएफपी, एपी)

DW.COM

WWW-Links