हाले में हुई गोलीबारी के बारे में अब तक क्या पता चला है? | दुनिया | DW | 10.10.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

हाले में हुई गोलीबारी के बारे में अब तक क्या पता चला है?

कुछ देर के लिए मची अफरातफरी थमने के बाद जर्मनी हैरान है और पुलिस हमले की कड़ियां जोड़ने में लगी है.

एक हथियारबंद आदमी ने पूर्वी जर्मनी के हाले शहर में बुधवार को एक सिनोगॉग में घुसने की असफल कोशिश की. नाकाम रहने के बाद उसने दो लोगों की हत्या कर दी और दो दूसरे लोगों को घायल कर दिया.

क्या हुआ था?

अब तक जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक हमलावर ने  यहूदियों के उपासना स्थल (सिनोगॉग) में जबरन घुसने की कोशिश की. घटना यहूदियों के पवित्र दिन योम किपुर के दिन हुई लेकिन हमलावर नाकाम रहा. उसने देसी बम से धमाके किए और गोलियां चलाई. इसके बाद उसने सिनेगॉग के बाहर एक महिला को गोली मार दी और फिर कबाब की दुकान के पास मौजूद एक दूसरे शख्स को भी गोली मार दी. इसके अलावा कम से कम दो लोग इस दौरान घायल हुए.

Deutschland Schüsse in Landsberg (picture-alliance/dpa/J. Woitas)

हाले के आसपास के इलाकों में तफ्तीश करती पुलिस

कौन था यह शख्स?

संदिग्ध हमलावर की पहचान श्टेफन बी के रूप में हुई है. 27 साल का यह शख्स जर्मन राज्य सैक्सनी अनहाल्ट का रहने वाला है और इसकी पृष्ठभूमि उग्र दक्षिणपंथी है. उसे बुधवार को ही हिरासत में ले लिया गया है.

हमले का उद्देश्य

इस हमले की लाइव वीडियो स्ट्रीमिंग भी हो रही थी. हमलावर को चीख चीख कर यहूदी विरोधी साजिशों की बातें और नारीवाद की आलोचना करते हुए सुना जा सकता है. इंटरनेट पर एक दस्तावेज भी मिला है. आतंकवादियों की ऑनलाइन गतिविधियों पर नजर रखने वाली एजेंसी 'साइट' की निदेशक रीटा कात्स का कहना है कि यह श्टेफन बी का मैनिफेस्टो हो सकता है. इस दस्तावेज में हथियारों की तस्वीरें हैं और उसके मिशन के बारे में जानकारी है. इसमें लिखा है, "गोरे लोगों के विरोधियों को जितना मुमकिन हो मार डालो." इसमें लाइव स्ट्रीमिंग का भी जिक्र है. हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है कि क्या यह दस्तावेज श्टेफन बी ने ही लिखा है.

Deutschland Jüdische Synagoge in Halle Saale (picture-alliance/dpa/J. Woitas)

हाले का सिनोगॉग

अब तक की जांच

जर्मन गृह मंत्री हॉर्स्ट जेहोफर यहूदियों की केंद्रीय परिषद के प्रमुख और सैक्सनी अनहाल्ट राज्य के गृह मंत्री के साथ गुरुवार यानी आज एक प्रेस कांफ्रेंस कर इस बारे में चल रही जांच के बारे में जानकारी देंगे.

अभी यह पता नहीं चल सका है कि सिनोगॉग पर हुए हमले और यहां से महज 15 किलोमीटर दूर लांडेसबैर्ग में बुधवार को हुई घटना के बीच क्या कोई संबंध है. लांडेसबैर्ग में एक शख्स ने ट्रक को कई गाड़ियों पर चढ़ा दिया. बाद में पता चला कि ट्रक चोरी का था. पुलिस इसे आतंकवादी घटना मान कर छानबीन कर रही है.

पुलिस ने इस बारे में फिलहाल और कोई जानकारी नहीं दी है लेकिन इलाके में सशस्त्र पुलिस गश्त लगा रही है और कई जगहों की तलाशी ली जा रही है.

एनआर/आईबी(डीपीए)

__________________________

हमसे जुड़ें: WhatsApp | Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन