हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक नेता जोशुआ वोंग गिरफ्तार | दुनिया | DW | 24.09.2020
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक नेता जोशुआ वोंग गिरफ्तार

हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक आंदोलन का अहम चेहरा रहे जोशुआ वोंग को गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्हें 2019 के सरकार विरोधी प्रदर्शनों के दौरान एक जगह गैरकानूनी रूप से जमा होने के आरोपों में गिरफ्तार किया गया है.

23 साल के वोंग ने ट्विटर पर लिखा कि उन पर "दमनकारी मास्क विरोधी कानून" का उल्लंघन करने के भी आरोप हैं. 2019 में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों ने चेहरे पर मास्क लगाकर सरकार का विरोध किया, जिसके बाद सार्वजनिक जगहों पर मास्क पहनने पर रोक लगा दी गई थी.

उनके आधिकारिक ट्विटर अकाउंट के मुताबिक, "यह गिरफ्तारी पिछले साल 5 अक्टूबर को गैरकानूनी रूप से जमा होने से संबंधित है. उन्हें बताया गया है कि उन्होंने मास्क विरोधी कानून का भी उल्लंघन किया है."

हांगकांग 1997 तक ब्रिटेन के अधीन था. लेकिन बीते 23 साल से अब वह चीन के नियंत्रण में है. चीन की सरकार देश के दूसरे हिस्सों की तरह हांगकांग में भी कम्युनिस्ट पार्टी की शासन व्यवस्था लागू करना चाहती है. लेकिन हांगकांग के बहुत से लोग लोकतांत्रिक तरीके से अपनी सरकार चुनने की आजादी चाहते हैं. इसी मांग के लिए पिछले साल वहां व्यापक विरोध प्रदर्शन हुए.

हांगकांग फ्री प्रेस के अनुसार लीग ऑफ सोशल डेमोक्रैट्स से जुड़े वरिष्ठ राजनीतिक कार्यकर्ता कू से ईयु को भी 5 अक्टूबर के विरोध प्रदर्शनों के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है. जोशुआ वोंग के वकील ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया कि वोंग एक अन्य मामले में मुकदमे का सामना कर रहे हैं और इसी सिलसिले में वह पुलिस स्टेशन गए थे. लेकिन वहां पहुंचने पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. लीग ऑफ सोशल डेमोक्रैट्स के चेयरमैन एवरी नग ने वोंग और ईयु की गिरफ्तारी की पुष्टि की है.

इस बीच, हांगकांग की पुलिस ने भी दो लोगों को गिरफ्तार करने की पुष्टि की है जिनमें एक की उम्र 23 साल और दूसरे की उम्र 74 साल बताई गई है. पुलिस के अनुसार उन्हें 5 अक्टूबर के विरोध प्रदर्शनों के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है. 

पिछले महीने चीन ने हांगकांग में नया सुरक्षा कानून लागू किया, जिसमें तोड़फोड़, अलगाववादी गतिविधियों, आतंकवाद और विदेशी बलों के साथ साठगांठ करने पर रोक लगाई गई है. आलोचकों का कहना है कि इस कानून का इस्तेमाल अर्धस्वायत्त शहर हांगकांग में विरोध को दबाने के लिए किया जाएगा. लंबे समय से वोंग के साथी रहे एग्नेस छो और दो अन्य कार्यकर्ताओं समेत 10 लोगों को नए सुरक्षा कानून के उल्लंघन के आरोपों में पिछले महीने पुलिस ने गिरफ्तार किया था.  

एके/एमजे (एएफपी)

__________________________

हमसे जुड़ें: Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

ये भी पढ़िए: हांगकांग में क्या गुल खिला रहा है चीन का नया कानून

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन