स्वाद के साथ सफाई भी | मनोरंजन | DW | 06.12.2013
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

स्वाद के साथ सफाई भी

भारत में सड़कों के किनारे ठेलों और स्टॉल पर बिकने वाली खाने की चीजें स्वादिष्ट और फटाफट खाने का बेहतरीन विकल्प रही हैं. लेकिन धूल और धुएं वाले माहौल में बने खाने से हर दिन सैंकड़ों लोग बीमार पड़ते हैं.

भारतीय अधिकारियों ने देश के लाखों खाद्य विक्रेताओं के लिए एक कड़ा संदेश जारी किया है. सड़क के ठेलों और स्टॉल चलाने वाले विक्रेताओं से कहा गया है कि वह सफाई का अच्छा ध्यान रखें, जैसे खाने की चीजों पर न छींके, अपने हाथ साफ रखें, नाक में उंगली न डालें और टॉयलेट से आकर हाथ जरूर धोएं.

साफ सफाई की ट्रेनिंग

नई दिल्ली में सड़क के किनारे एक स्टॉल पर दाल मखनी बेचने वाले तेजिंदर सिंह कहते हैं कि सड़कों पर खाने की चीजें बेचने वाले बहुत सारे लोग सफाई का इतना ध्यान नहीं रखते हैं. "हम कोई देवता नहीं हैं. हमें बहुत कुछ सीखने की जरूरत है." तेजिंदर उन 500 विक्रेताओं में हैं जिन्होंने अक्तूबर में "डेल्ही बेली" नाम से आयोजित की गई एक ट्रेनिेंग में हिस्सा लिया.

Verunreinigung Essen in Indien

ठेलेवाले भी सफाई के बारे में सीख रहे हैं

बेली का मतलब पेट होता है और डेल्ही बेली यानी दिल्ली वाला पेट, जो यहां के खाने से खराब हो जाता है. डेल्ही बेली कार्यक्रम में ठेलेवालों को खाने में सफाई और सेहत के बारे में बताया गया. भारत में खाद्य सुरक्षा के मानक तय करने वाली संस्था और सड़कों पर खाने की चीजें बेचने वाले विक्रेताओं के राष्ट्रीय संघ ने पीने के साफ पानी और दस्तानें के इस्तेमाल की भी हिदायत दी. ट्रेनिंग का मकसद भीड़भाड़ वाले इलाकों में कुछ "सुरक्षित क्षेत्र" बनाने का है.

"डेल्ही बेली" का चक्कर

नई दिल्ली में पढ़ाई कर रहे 18 साल के धरम सिंह कहते हैं कि वो सिर्फ उन्हीं जगहों पर खाते हैं जिनके बारे में किसी ने उन्हें बताया हो और जहां खाने पर मक्खियां न मंडरा रही हों. वो इस बात का भी ध्यान रखते हैं कि जिन बर्तनों में खाना परोसा जा रहा है वो सफाई से धुले हों.

धरम को गंदी प्लेट में खाने की बहुत भारी कीमत चुकानी पड़ी जब एक ठेले पर छोले भटूरे खाने के बाद उनके पेट में बहुत गंभीर इन्फेक्शन हो गया और वो पूरे हफ्ते बीमार रहे. धरम कहते हैं "वो नाले के बिल्कुल पास अपने बर्तन धोता था."

आरआर/एमजी(एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन