सोनिया राहुल भी देखेंगे मैच, पाक दफ्तरों में छुट्टी | वर्ल्ड कप 2014 | DW | 30.03.2011
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

वर्ल्ड कप

सोनिया राहुल भी देखेंगे मैच, पाक दफ्तरों में छुट्टी

मोहाली की पिच पर टीम इंडिया जब पाकिस्तान से भिड़ रही होगी तो दर्शकों के बीच उनका उत्साह बढ़ाने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और महासचिव राहुल गांधी भी होंगे. पाकिस्तान से मैच देखने सैकड़ों लोग भारत आए हैं.

default

मोहाली के मुकाबले में दर्शकों के बीच सोनिया गांधी, राहुल, प्रियंका और उनके पति राबर्ट वढेरा के भी रहने की उम्मीद है. राहुल गांधी के पांव फिलहाल जख्मी है. बावजूद इसके वे मैच देखने के लिए मोहाली जाना चाहते हैं.

इस बीच मंगलवार को पाकिस्तान से करीब 200 क्रिकेट प्रेमी मैच देखने के लिए वाघा बॉर्डर के रास्ते भारत में दाखिल हुए. पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी ने भारत पहुंचने के बाद कहा क्रिकेट दोनों मुल्कों के बीच निश्चित रूप से बातचीत के लिए माहौल बनाने में मददगार होगा.

Der Generalsekretär der indischen Kongresspartei Rahul Gandhi und seine Schwester Priyanka Gandhi

कसूरी ने कहा कि वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल दोनों देशों के लोगों को करीब ले आया है. दोनों देशों के लोग मैच देखने के लिए बेताब हैं. मैच देखने के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष एजाज बट भी आए हैं. भारत पहुंचने के बाद बट ने कहा कि पूरा पाकिस्तान अपने खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर इस वक्त ध्यान लगाए हुए है.

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी खुद तो मैच देखने मोहाली जा ही रहे हैं और देश के बाकी लोग भी मैच आराम से देख सकें इसके लिए उन्होंने इंतजाम कर दिया है. मंगलवार को एलान किया गया कि सेमीफाइनल मैच के मद्देनजर देश भर के सरकारी दफ्तरों में आधे वक्त की छुट्टी दे दी जाएगी.

Pakistan Cricket Verband Ijaz Butt

दोपहर बाद सभी सरकारी दफ्तर बंद कर दिए जाएंगे. वैसे इस बात के पहले से ही कयास लगाए जा रहे हैं कि दफ्तरों में बुधवार को कर्मचारियों की मौजूदगी कम ही रहेगी.

उधर गृह मंत्री रहमान मलिक ने कहा है कि मैच को लेकर बहुत ज्यादा शोरशराबा करने की जरूरत नहीं क्योंकि इस तरह से खिलाड़ियों पर बिना वजह दबाव बढ़ जाता है जिस का असर उनके खेल पर दिखने लगता है. रहमान मलिक ने कहा, "यह बस खेल है, भारत पाकिस्तान के बीच जंग नहीं. हमें खिलाड़ियों का मनोबल ऊंचा रखना चाहिए, ज्यादा प्रचार या उम्मीदें खिलाड़ियों पर दबाव बनाएंगी."

रहमान मलिक ने ये भी कहा कि पूरा देश पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की कामयाबी के लिए दुआ कर रहा है और खिलाड़ियों को बस अपने खेल पर ध्यान देना चाहिए.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः एमजी

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन