सेटेलाइट बनाने वाली स्टार्ट अप कंपनी | मंथन | DW | 15.07.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मंथन

सेटेलाइट बनाने वाली स्टार्ट अप कंपनी

कभी फोटो खिंचवाने के लिए स्टूडियो में जाना पड़ता था. अब हर किसी के हाथ में स्मार्टफोन है. जब चाहें फोटो खींच लें. कुछ ही साल पहले तक ड्रोन के बारे में सुन कर लोग हैरान होते थे. अब ड्रोन घरों में पिज्जा डिलीवर करने लगे हैं. इसी तरह क्या पता कल को आपके दफ्तर या कॉलेज के लिए छोटे छोटे सैटेलाइट भी उपलब्ध होने लगें जिन्हें आप खुद स्पेस में भेज सकेंगे. बर्लिन की एक स्टार्ट अप का कुछ ऐसा ही प्लान है.

वीडियो देखें 03:59