सीमेंस से 11,600 नौकरियां खत्म | दुनिया | DW | 30.05.2014
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

सीमेंस से 11,600 नौकरियां खत्म

भारी मशीनों के लिए दुनिया भर में मशहूर जर्मन कंपनी सीमेंस अलग अलग देशों में अपने दफ्तरों से 11,600 नौकरियां खत्म कर रही है. कंपनी आने वाले दिनों में एक अरब यूरो बचाना चाहती है.

सीमेंस के प्रमुख जो कायजर ने कहा कि इन नौकरियों को खत्म करने के लिए नई शाखाएं बनाई जाएंगी और विदेशों में सीमेंस के दफ्तरों में भी बदलाव लाए जाएंगे. उन्होंने कहा कि कुछ कर्मचारियों को कंपनी के ही अंदर दूसरे कामों में लगाया जाएगा. कंपनी के प्रमुख कायजर ने यह संदेश एक वेब कॉन्फ्रेंस के जरिए दिया.

कायजर के मुताबिक, "कुछ ऐसे कर्मचारी हैं जो योजना बनाते हैं और विश्लेषण करते हैं. हमारा मानना है कि इन्हें हम दूसरे काम में लगा सकते हैं. इन्हें हम सिस्टम से निकाल सकते हैं क्योंकि फिर काम नहीं बचता है." जर्मनी और यूरोप में आर्थिक संकट और नौकरियों की कमी को देखते हुए कंपनी ने कहा है कि इन 11,600 पदों को खत्म करने का मतलब नहीं है कि इन कर्मचारियों के पास नौकरी नहीं होगी. कंपनी प्रवक्ता के मुताबिक हो सकता है कि ये लोग सीमेंस के दूसरे विभागों में काम करने लगें.

इस महीने की शुरुआत में सीमेंस ने एक बड़ी योजना का खुलासा किया, जिसके तहत कंपनी अपना ढांचा बदल रही है. इस योजना का नाम है विजन 2020 रखा गया है. कंपनी के नौ मूल विभाग हैं और वह इन विभागों में मैनेजमेंट को भी कम करना चाहता है. सीमेंस अपनी हियरिंग एड बिजनेस को भी शेयर बाजार में अलग से दर्ज कराना चाहता है और स्वास्थ्य सेवा के मैनेजमेंट को मुख्य कंपनी से अलग करना चाहता है. सीमेंस में करीब तीन लाख 60 हजार लोग काम करते हैं. कंपनी को उम्मीद है कि वह नौकरियां घटा कर मुनाफा बढ़ा सकेगा और अपने टक्कर की कंपनियों से प्रतिस्पर्धा करने में ज्यादा सफल होगा.

एमजी/एजेए (रॉयटर्स)

संबंधित सामग्री