सिगरेट छोड़ने पर वजन बढ़े तब भी छोड़िए | विज्ञान | DW | 11.07.2012
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

विज्ञान

सिगरेट छोड़ने पर वजन बढ़े तब भी छोड़िए

सिगरेट पीना छोड़ने के बाद पहले साल में शरीर का वजन औसत रूप से 4-5 किलोग्राम तक बढ़ जाता है. पहले जितना सोचा गया था उसके मुकाबले बढ़ने वाला वजन काफी ज्यादा है. बावजूद इसके सिगरेट छोड़ना ही अच्छा है.

बुधवार को पैरिस में जारी हुए एक रिसर्च के नतीजे बताते हैं कि शुरूआत के दो तीन महीनों में ही ज्यादातर लोगों का वजन बढ़ जाता है. ऑनलाइन मेडिकल जर्नल बीएमजे डॉट कॉम के लिए किए रिसर्च के बाद यह जानकारी दी गई है. हालांकि रिसर्च करने वालों के एक दूसरे गुट का कहना है कि सिगरेट छोड़ने से सेहत को होने वाले दूसरे फायदों की तुलना में वजन बढ़ना बहुत मामूली नुकसान है.

सिगरेट छोड़ने वालों में जिन लोगों ने इलाज का सहारा नहीं लिया उनके वजन में औसतन पहले महीने के बाद 1.1 किलो, दूसरे महीने 2.3 किलो, तीसरे महीने 2.9 किलो, छह महीने के बाद 4.2 किलो और एक साल बाद 4.7 किलो की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई. फ्रांस और ब्रिटेन के रिसर्चरों की टीम ने नतीजे में लिखा है कि सिगरेट छोड़ने की सलाह देने वाले पर्चों में 2.9 किलो वजन बढ़ने की बात कही गई थी लेकिन वास्तव में बढ़ोत्तरी उससे बहुत ज्यादा है.

पुराने रिसर्च में पता चला था कि निकोटिन भूख को मारता है और मेटाबॉलिज्म की दर को भी बढ़ा सकता है. नई खोज के लिए रिसर्चरों ने 1989 से 2011 के बीच अमेरिका, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया और पूर्वी एशिया में हुए रिसर्च के नतीजों का अध्ययन किया जिससे कि पता चल सके कि सिगरेट छोड़ने में सफल रहे लोगों के वजन में कितना बदलाव आया. रिसर्चरों ने जोर दे कर कहा है कि शरीर के वजन में बहुत बदलाव होता है. सिगरेट छोड़ने वाले 16 फीसदी लोगों का वजन घटता है जबकि 13 फीसदी लोग पहले साल में 10 किलो से ज्यादा वजन जमा कर लेते हैं.

स्पेन और ऑस्ट्रेलिया के जानकारों ने माना है कि वजन का बढ़ना सिगरेट से होने वाले दूसरे नुकसानों की तुलना में बहुत कम खतरनाक है. इन जानकारों ने लिखा है, "दुनिया भर में समय से पहले मौत की सबसे बड़ी वजह तंबाकू है. हर साल 51 लाख लोग तंबाकू की वजह से मरते हैं. मोटापे को अगर जरूरत से ज्यादा वजनी लोगों के साथ मिला दें तो भी हर साल इसकी वजह से मरने वाले लोगों की संख्या 28 लाख तक ही पहुंचती है. रिसर्च बताते हैं कि थोड़ा सा वजन बढ़ने से जिंदगी को खतरा नहीं लेकिन सिगरेट से है."

इन जानकारों ने इस बात पर जोर दिया है कि वजन बढ़ने का डर कुछ लोगों को सिगरेट पीना छोड़ने से रोक सकता है इसलिए इस बारे में और रिसर्च होनी चाहिए. जिन लोगों का वजन ज्यादा बढ़ने की आशंका है उन्हें जरूरी सलाह मशविरा दी जानी चाहिए.

एनआर/ओएसजे(एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन