सवालों के घेरे में कासियास | खेल | DW | 15.09.2014
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

सवालों के घेरे में कासियास

स्पेन के चर्चित फुटबॉल टीम रियाल मैड्रिड के फैंस बड़े सितारों से बड़ी मांगें रखने के लिए जाने जाते हैं. वे खिलाड़ियों से लगातार बेहतर प्रदर्शन चाहते हैं. अब स्टार गोलकीपर कासियास उनके निशाने पर हैं.

शनिवार को जब स्पेनी लीग का मैच हो रहा था, तो स्पेन के कप्तान और 2010 का वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम के बेहतरीन गोलकीपर आइकर कासियास प्रशंसकों के हत्थे चढ़ गए. उनके खिलाफ फैंस ने नारे लगाए. मैड्रिड यह मैच अटलेटिको मैड्रिड के हाथों 2-1 से हार गया.

33 साल के कासियास का कहना है, "पब्लिक हमेशा सही होती है. अगर वे मेरे खिलाफ बोलना चाहते हैं, तो मुझे समझना है कि मुझे इसे स्वीकार करना है. अब मुझे आगे बेहतर प्रदर्शन की कोशिश करनी है ताकि मुझे फिर से उनका प्यार मिल पाए."

वह लगातार 15 साल से रियाल मैड्रिड के लिए खेल रहे हैं. और इस दौरान टीम ने तीन बार चैंपियंस लीग जीती है.

कासियास का कहना है, "मुझे पता है कि वे क्यों दुखी हैं. इस सीजन में हमने कई बार गोल खाए हैं. हम लोग एक टीम के तौर पर नाकाम हो रहे हैं. लेकिन यह भी सच है कि इस नाकामी में मेरा भी रोल है क्योंकि मैं गोलकीपर हूं और कप्तान भी. हमें इस समस्या को सुलझाना होगा."

दो साल पहले तक कासियास प्रशंसकों के चहेते हुआ करते थे. उन्होंने उस राष्ट्रीय टीम का भी प्रतिनिधित्व किया है, जिसने 2008 और 2012 का यूरो कप और 2010 का वर्ल्ड कप जीता है. उन्होंने 157 मैचों में देश का प्रतिनिधित्व किया है. दक्षिण अफ्रीका के 2010 के वर्ल्ड कप के दौरान उन्होंने उस वक्त सुर्खियां बटोरी थीं, जब कप जीतने के बाद उन्होंने इंटरव्यू लेने वाली पत्रकार सारा कार्बोनेरो का चुंबन ले लिया और बाद में पता चला कि वह उनकी गर्लफ्रेंड थीं.

उनके लिए समस्या दो साल पहले उस वक्त शुरू हुई, जब रियाल मैड्रिड के पूर्व कोच खोसे मोरिन्यो ने आरोप लगाया कि वह टीम की गुप्त बातें मीडिया में लीक कर रहे हैं. उसके बाद कासियास को टीम से हटा दिया गया. इसी बीच उनका हाथ टूट गया और उन्हें चार महीने तक फुटबॉल से बाहर होना पड़ा.

इसके बाद उनका सबसे बुरा दौर शुरू हुआ, जब इस साल के वर्ल्ड कप में उन्हें पहले ही मैच में नीदरलैंड्स के खिलाफ बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा. उसके बाद चिली ने भी स्पेन को हरा दिया. इस दौरान कासियास की बढ़ती उम्र का असर उनके खेल पर भी झलकने लगा है. रियाल मैड्रिड के प्रशंसकों को लगता है कि अब कासियास के जाने और किसी नए गोलकीपर के आने का वक्त हो गया है.

एजेए/एएम (डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन