श्रीनगर में वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या | दुनिया | DW | 14.06.2018
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

श्रीनगर में वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या

श्रीनगर में अज्ञात हमलावरों ने 'राइजिंग कश्मीर' अखबार के संपादक शुजात बुखार की गोली मार कर हत्या कर दी.

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक गुरुवार शाम जब वह अपने दफ्तर से निकले तो उन पर हमला किया गया. बताया जाता है कि बेहद करीब से उन पर कई गोलियां दागी गईं. उनकी रक्षा के लिए तैनात दो सुरक्षा गार्डों को भी गोलियां लगी और वे गंभीर रूप से घायल हैं.

कश्मीर में किसी पत्रकार पर लंबे समय बाद हमला किया गया, जिसे पत्रकार बिरादरी सकते में है. एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक कश्मीर टाइम्स की एक्जिक्यूटिव एडीटर अनुराधा जमवाल का कहना है, "यह प्रेस की आजादी पर हमला है."

इससे पहले शुजात बुखारी पर 2000 में हमला किया गया था जिसके बाद से उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई जा रही थी.

शुजात बुखारी अपने करियर के आरंभिक दिनों में लंबे समय तक डॉयचे वेले की हिंदी, ऊर्दू और अंग्रेजी सेवाओं के साथ जुड़े रहे हैं.

जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने शुजात बुखारी की हत्या पर गहरा दुख व्यक्त किया है. मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा कि वह इस हमले की कड़े शब्दों में निंदा करती हैं.

हाल के दिनों में भारत में गौरी लंकेश समेत कई पत्रकारों को निशाना बनाया गया है.

यही वजह है कि प्रेस फ्रीडम सूचकांक में भारत नीचे खिसक रहा है.सालाना अमरनाथ यात्रा के लिए केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा समीक्षा बैठक के चंद घंटों बाद यह हमला हुआ. अमरनाथ यात्रा इसी महीने शुरू होने वाली है.

देखिए प्रेस फ्रीडम में कौन कहां है

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन