शव के साथ सात साल | लाइफस्टाइल | DW | 12.02.2014
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

लाइफस्टाइल

शव के साथ सात साल

प्रियजन की मृत्यु, कुछ लोग इस विदाई को बर्दाश्त नहीं कर पाते. वो प्रियजन के शव को भी अपने साथ ही रखने की जिद करते हैं. दक्षिण कोरिया की एक महिला ने भी कुछ ऐसा ही किया, उसने पति का शव सालों तक अपने पास रखा.

दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल के एक घर में जब पुलिस ने छापा मारा तो जांच अधिकारी दंग रह गए. चो नामकी महिला के घर पर सात साल पुराना एक शव मिला. शव चो के पति का था, जिनकी 2007 में मौत हुई.

पेशे से फार्मेसिस्ट चो ने शव को बेहद संभाल कर रखा. पुलिस के मुताबिक शव को इस ढंग से रखा गया था कि वो सात साल बाद भी पूरी तरह सुरक्षित था. अधिकारियों के मुताबिक फार्मेसिस्ट के तौर पर चो को रसायनों की अच्छी जानकारी है. इसी जानकारी का इस्तेमाल कर उन्होंने अपने पति का शव सुरक्षित रखा. एक जांच अधिकारी ने कहा, "हमें नहीं पता कि आखिर उन्होंने इतने अच्छे ढंग से शव को कैसे सुरक्षित रखा."

चो को गिरफ्तार नहीं किया गया है. चो का कहना है कि वो अपने पति से बहुत ज्यादा प्यार करती हैं. वो यह मानने से इनकार करती हैं कि उनके पति की सात साल पहले मौत हुई. चो कहती हैं कि पति से अलगाव तो पुलिस के शव ले जाने के बाद हुआ है. पुलिस चो के खिलाफ लापरवाही का आपराधिक मामला दर्ज करने की तैयारी कर रही है.

ओएसजे/एएम (एएफपी)

DW.COM

विज्ञापन