वीडियो: ऐसी होगी मंगल पर इंसानी बस्ती | विज्ञान | DW | 12.01.2016
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

वीडियो: ऐसी होगी मंगल पर इंसानी बस्ती

ये वीडियो एक संकल्पना है. एनीमेशन के माध्यम से पहली बार आप यह देख सकेंगे कि वैज्ञानिक अगले कुछ दशकों में मंगल ग्रह पर इंसानी आबादी को कैसे बसाने की योजना बना रहे हैं.

मंगल पर इंसान की पहली लैंडिग साइट से लेकर आगे के कुछ दशकों की झलक दिखा रहा है ये वीडियो. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने अपने इस एनीमेशन वीडियो में उन सभी इलाकों को दिखाया है जो मानव के मंगल पर जीवित रहने के लिए बेहद जरूरी होंगे. जैसे कि खाने, पीने के लिए पौधे उगाने की व्यवस्था, बिजली के लिए पावर सेंटर और एक बड़ा शोध एवं अनुसंधान केंद्र.

लाल ग्रह मंगल पर जीवन की संभावना तलाशने का काम कई दशकों से जारी है. अंतरिक्ष में धरती के अलावा किसी और ग्रह पर बसने की संभावना को लेकर उत्साह तो है लेकिन मैसाचुसेट्स के तकनीकी संस्थान एमआईटी के वैज्ञानिकों के शोध से पता चला है कि लाल ग्रह के हालात को देखते हुए इंसान के वहां केवल 68 दिनों तक ही जीने की संभावना है.

एमआईटी के वैज्ञानिकों के मुताबिक दो महीने के भीतर ऑक्सीजन का स्तर कम होने की स्थिति से निपटने के लिए एक नई तकनीक इजाद करनी होगी. हॉलैंड की कंपनी मार्स वन लाल ग्रह पर 2024 तक इंसानी बस्ती बसाना चाहती है. इसके लिए कंपनी ने आवेदन मंगाए थे, जिसके जवाब में करीब दो लाख लोगों ने अपना नाम भेजा. कंपनी ने इनमें से पहले एक हजार लोगों को छांटा है और आगे केवल 24 लोगों को इस मिशन के लिए चुना जाएगा. लेकिन मंगल के हालात और मानव तकनीक की सीमाएं मंगल मिशन की राह में बड़ी बाधाएं हैं. पृथ्वी से करीब 5.5 करोड़ किलोमीटर की दूरी पर स्थित लाल ग्रह तक पहुंचने में कम से कम सात महीने का समय लगता है.

आरआर/एमजे

DW.COM

विज्ञापन