विराट कहें, ऐसे मनाओ हैप्पी दीवाली | मनोरंजन | DW | 05.10.2016
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

विराट कहें, ऐसे मनाओ हैप्पी दीवाली

भारतीयों को दीवाली कैसे मनानी चाहिए, ये टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली से पूछिये. विराट के पास बिंदास जवाब है.

यूं तो दीपावली का माहौल दुर्गा पूर्जा और रामलीला के दौरान ही बनने लगता है. घर की सफाई, रंगाई, नौकरी से कुछ वक्त निकालकर परिवार से मिलना, दीवाली अपने साथ ऐसे मौके लाती है. लेकिन वक्त के साथ ये त्योहार भी बदला है. मिलावटी मिठाई की बढ़ती खबरों के बीच असली भारतीय मिठाइयों की जगह कम हुई है.

चॉकलेट वगैरह के साथ शुभकामनाओं में क्या वाकई मिठाई जैसी मिठास है? भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली अपने ही अंदाज में कहते हैं, ना, चॉकलेट में वो बात कहां. बदलते वक्त के साथ बदले चलन को भी विराट मजेदार नहीं मानते. वह दीपावली में ताश का खेल, मां की आरती और लाइट जाने की चर्चा भी कर रहे हैं.

हरफनमौला बल्लेबाज की ये बातें भले ही एक विज्ञापन का हिस्सा हों, लेकिन वो भारतीयों को अपनी परंपरा का संदेश जरूर दे रही हैं. विज्ञापन की शुरुआत में विराट टीशर्ट और कोट में हैं. फिर वो कुर्ता पजामा पहनते हैं और हैप्पी दीवाली कहते हैं.

(भारत की वो बातें, जिनसे दुनिया को है प्यार)

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन