लोकसभा चुनाव: चौथे चरण में 72 सीटों पर मतदान जारी | भारत | DW | 29.04.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

भारत

लोकसभा चुनाव: चौथे चरण में 72 सीटों पर मतदान जारी

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में 72 सीटों पर मतदान जारी है. ये चुनाव नौ राज्यों में हो रहे हैं जिनमें से अधिकांश हिंदी भाषी क्षेत्र हैं.

इस चरण में कुल 12.79 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करने के पात्र हैं. मुंबई की छह सीटों सहित महाराष्ट्र की 17 सीटों पर मतदान हो रहा है. मध्य प्रदेश और ओडिशा में छह-छह, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में 13-13, बिहार में पांच, पश्चिम बंगाल में आठ और झारखंड में तीन सीटों पर मतदान हो रहा है. जम्मू एवं कश्मीर के अनंतनाग निर्वाचन क्षेत्र में भी दूसरे चरण में मतदान हो रहा है. लोकसभा चुनाव के साथ ही मध्य प्रदेश की छिंदवाड़ा विधानसभा सीट पर भी उपचुनाव हो रहा है जहां से मुख्यमंत्री कमलनाथ विधायक बनने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं.

इस चरण के प्रमुख उम्मीदवारों में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो (भाजपा) शामिल हैं, जो पश्चिम बंगाल के आसनसोल में मुनमुन सेन (तृणमूल कांग्रेस) से मुकाबला कर रहे हैं. बिहार के बेगूसराय में गिरिराज सिंह (भाजपा) का मुकाबला जेएनयू छात्र नेता कन्हैया कुमार (सीपीआई) से है. फिल्म अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर (मुंबई उत्तर) और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव (कन्नौज) भी चुनावी मैदान में हैं. इसके अलावा राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत जोधपुर से, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पुत्र दुष्यंत सिंह झालावाड़-बारां से और कमलनाथ के पुत्र नकुल नाथ मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा से चुनाव लड़ रहे हैं.

उत्तर प्रदेश में मुकाबला

उत्तर प्रदेश में चौथे चरण के तहत 13 लोकसभा सीटों पर सुबह 9 बजे तक 9.59 प्रतिशत मतदान हुआ है. लोकतंत्र के इस महापर्व में हिस्सा लेने के लिए लोगों में गजब का उत्साह देखने को मिला. सुबह-सुबह ही लोग मतदान केंद्र के बाहर लंबी-लंबी कतारों में अपनी बारी का इंतजार करते देखे गए. हालांकि कई जगह ईवीएम में खराबी की वजह से मतदान में विलंब भी हुआ है. कानपुर, कन्नौज, झांसी, उन्नाव, हरदोई, शाहजहांपुर और फरुखाबाद में ईवीएम में खराबी की शिकायत मिली हैं.

चौथे चरण में प्रदेश में कई दिग्गज राजनीतिक दिग्गजों की साख दांव पर है. इनमें कानपुर में पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल व योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री सत्यदेव पचौरी, उन्नाव से भाजपा सांसद साक्षी महाराज व कांग्रेस की पूर्व सांसद अनु टंडन, कन्नौज से समाजवादी पार्टी की सांसद डिंपल यादव, फरुखाबाद से पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद, धौरहरा से पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद और इटावा से पूर्व केंद्रीय मंत्री रामशंकर कठेरिया चुनाव मैदान में हैं.

कैसे काम करती है ईवीएम?

बिहार की स्थिति

बिहार में में पहले तीन घंटे में सुबह 10 बजे तक लगभग 11.80 प्रतिशत मतदान हो चुका है. मतदान सुबह सात बजे से शुरू हुआ. चौथे चरण में बिहार की 40 लोकसभा सीटों में से पांच लोकसभा क्षेत्रों दरभंगा, उजियारपुर, समस्तीपुर, बेगूसराय और मुंगेर लोकसभा क्षेत्रों में चुनाव हो रहे हैं. इन क्षेत्रों में मतदान के दौरान 87.92 लाख से ज्यादा मतदाताओं के लिए 8,834 मतदान केंद्र बनाए गए हैं.

राज्य निर्वाचन विभाग के अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि पहले तीन घंटों में सबसे अधिक 14 प्रतिशत मतदान मुंगेर संसदीय क्षेत्र में हुआ है जबकि सबसे कम बेगूसराय लोकसभा क्षेत्र में 11 प्रतिशत मतदान हुआ है. इन क्षेत्रों से कुल 66 प्रत्याशी चुनावी मैदान में किस्मत आजमा रहे हैं.

इस चरण के चुनाव को लेकर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं. सभी मतदान केंद्रों पर अर्धसैनिक बलों और बिहार सैन्य बल की तैनाती की गई है. मतदान के लिए 16,000 से ज्यादा मतदान कर्मियों को लगाया गया है. उल्लेखनीय है कि बिहार की 40 लोकसभा सीटों के लिए सभी सात चरणों में मतदान होना है. पहले चरण में 11 अप्रैल को चार लोकसभा क्षेत्रों में तथा दूसरे व तीसरे चरण में पांच-पांच क्षेत्रों में मतदान हो चुका है.

सुस्त पड़ा महाराष्ट्र

महाराष्ट्र में 17 लोकसभा सीटों के लिए सोमवार को चौथे चरण में सुबह नौ बजे तक महज सात प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया. आज मुंबई, नंदुरबार, धुले, डिंडोरी, नासिक, पालघर, भिवंडी, कल्याण, ठाणे, मावल, शिरुर और शिरडी निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान हो रहा है. जनजातीय क्षेत्र नंदुरबार निर्वाचन क्षेत्र (एसटी) में सबसे अधिक 8.73 प्रतिशत मतदान हुआ, जबकि ठाणे जिले के कल्याण में सबसे कम 5 प्रतिशत मतदान दर्ज हुआ. अन्य सभी निर्वाचन क्षेत्रों में केवल 5 से 7 प्रतिशत के बीच मतदान दर्ज किया गयात.

मुंबई की छह लोकसभा सीटों में, सबसे अधिक 7.85 प्रतिशत मतदान मुंबई उत्तर में दर्ज किया गया था, जहां से बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर को भाजपा सांसद गोपाल शेट्टी के खिलाफ खड़ा किया गया है और सबसे कम 5.91 प्रतिशत मुंबई दक्षिण में दर्ज किया गया, जहां से पूर्व केंद्रीय मंत्री मिलिंद एम देवड़ा शिवसेना के अरविंद जी सावंत के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं.

मध्य प्रदेश में पहला चरण

वहीं मध्य प्रदेश में भी सुबह सात बजे मतदान शुरु हुआ और पहले दो घंटों में 11.39 प्रतिशत वोट पड़ चुके हैं, जिसमें पुरुषों का प्रतिशत 14.62 और महिलाओं का प्रतिशत 8.01 रहा. छिंदवाड़ा विधानसभा क्षेत्र में हो रहे उपचुनाव में 7.4 प्रतिशत मतदान हुआ है. मतदान के दौरान गड़बड़ी की शिकायतें मिलने पर 147 वीवीपेट और कई ईवीएम बदली गई हैं.

लोकसभा चुनाव में प्रदेश के पहले चरण के लिए कुल 1,05,55,689 मतदाता हैं, जिनमें 9,864 सेवा मतदाता अपने मत का प्रयोग पोस्टल बैलेट के माध्यम से करेंगे. प्रथम चरण के छह संसदीय क्षेत्रों में कुल 13,491 मतदान केंद्र बनाए गए हैं.

चुनाव आयोग द्वारा निर्वाचन ड्यूटी के दौरान मतदान कर्मियों की सुरक्षा, आपात चिकित्सा एवं सुरक्षित निकासी के लिए एयर एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई है. लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल की कुल 85 कंपनियां, राज्य सशस्त्र पुलिस बल की 38 कंपनियां तथा राज्य पुलिस के अधिकारियों व कर्मचारियों सहित कुल 44,200 सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया है. 

राज्य के 29 संसदीय क्षेत्रों में कुल चार चरणों में मतदान होना है. पहले चरण में आज छह और इसके बाद छह मई, 12 मई और 19 मई को भी शेष संसदीय क्षेत्रों में मतदान होगा. मतगणना 23 मई को होगी.

चौथे चरण के साथ, महाराष्ट्र और ओडिशा की सभी सीटों पर मतदान संपन्न हो जाएंगे. सात चरणों का लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल को शुरू हुआ था और 19 मई को समाप्त होगा. मतगणना 23 मई को होगी.

आईएएनएस (आईबी)

भारतीय चुनाव: आखिर खर्चा कितना होता है?

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन