लता मंगेशकर पुरस्कार समारोह में ही नहीं जातीं लता | मनोरंजन | DW | 04.12.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

लता मंगेशकर पुरस्कार समारोह में ही नहीं जातीं लता

महान गायिका लता मंगेशकर के सम्मान में हर साल पुरस्कार देने वाली मध्य प्रदेश सरकार ने घोषणा की है कि चार दिन तक चलने वाला यह समारोह रविवार से शुरू होगा. लेकिन इसमें लता का शामिल होना तय नहीं है.

default

समारोह में नहीं जातीं लता

लता मंगेशकर मध्य प्रदेश के इंदौर शहर के सिख मोहल्ला के एक घर में पैदा हुईं. उनके सम्मान में लता मंगेशकर पुरस्कार की शुरुआत 1985 में हुई. यह पुरस्कार हर साल बारी बारी से गायकों और संगीतकारों को दिया जाता है.

इस साल लता मंगेशकर पुरस्कार को शुरू हुए 25 साल पूरे हो रहे हैं. इन 25 सालों में लता कभी भी इस पुरस्कार समारोह में शामिल नहीं हुईं. इस साल भी उनका इसमें शामिल होना पक्का नहीं है. मध्य प्रदेश के संस्कृति विभाग के एक अधिकारी ने बताया, "सरकार हर साल उन्हें निमंत्रण भेजती है, लेकिन इंदौर के अपने चाहने वालों की इच्छा को उन्होंने अब तक पूरा नहीं किया है."

इस बार 2008-09 का लता मंगेशकर पुरस्कार जाने माने संगीतकार रवि को दिया जाएगा जबकि 2009-10 के अनुराधा पौंडवाल को सम्मानित किया जाएगा. राज्य सरकार की तरफ से अब तक 24 लोगों को यह सम्मान दिया जा चुका है जिन्होंने संगीत और गायक के क्षेत्र में अमूल्य योगदान दिया है. लता मंगेशकर पुरस्कार पाने वालों में नौशाद, किशोर कुमार और आशा भोंसले जैसे कलाकार शामिल हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः वी कुमार

DW.COM

WWW-Links

विज्ञापन