रूस ने दी फेसबुक को चेतावनी | दुनिया | DW | 30.09.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

रूस ने दी फेसबुक को चेतावनी

रूस ने फेसबुक को बैन करने की चेतावनी दी है. मॉस्को का कहना है कि फेसबुक को रूसी नागरिकों के लिए रूस में ही सर्वर लगाना होगा, वरना उसका काम बंद कर दिया जायेगा.

रूस में कम्युनिकेशन पर नजर रखने वाली संस्था रोजकॉमनाडजोर ने यह चेतावनी दी है. इसी संस्था ने नवंबर 2016 में अमेरिकी प्रोफेशनल नेटवर्किंग साइट लिंक्डइन को भी ब्लॉक किया था. रूसी समाचार एजेंसी इंटरफैक्स के मुताबिक सितंबर 2015 से लागू कानून का उल्लंघन करने वाली इंटरनेट कंपनियों पर अब कड़ी कार्रवाई होगी.

मॉस्को के डाटा सिक्योरिटी कानून के मुताबिक रूस में काम करने वाली इंटरनेट कंपनियों को रूसी नागरिकों की जानकारी रूस के ही सर्वरों पर रखनी होगी. इंटरफैक्स से बातचीत में रोजकॉमनाडजोर के प्रमुख अलेक्जेंडर झारोव ने कहा, "कानून का पालन हर किसी को करना होगा. 2018 में सब कुछ नियम के मुताबिक होना चाहिए."

ऐसा न करने वाली कंपनियों को चेतावनी देते हुए कहा गया है, "या तो हमें कानून बदलना होगा या फिर दुर्भाग्य से कंपनी को लिंक्डइन की तरह रूस की सीमा में अपना काम बंद करना होगा. इसमें कोई अपवाद नहीं है. हम साफ तौर पर समझते हैं कि रूसी संघ की सीमा में फेसबुक के पास यूजर्स की संख्या काफी ज्यादा है. लेकिन दूसरे नजरिये से देखें तो हम समझते हैं कि यह कोई अनोखी सर्विस नहीं है और कई और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म मौजूद हैं."

अमेरिकी सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर ने अब रूस में ही पर्सनल डाटा वाला सर्वर बनाने का फैसला किया है. ट्विटर के मुताबिक 2018 तक सर्वर लगाने का काम पूरा हो जाएगा.

रूसी राष्ट्रपति कार्यालय के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने भी कड़े कदमों की पुष्टि की है. पेस्कोव ने कहा कि हर किसी की तरह अमेरिकी कंपनी को भी कानून का पालन करना होगा.

रूस पर आरोप है कि उसने सोशल मीडिया पर फेक न्यूज का सहारा लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में दखल दिया. इस मामले की जांच अमेरिका में चल रही है. शुरुआती इनकार के बाद अब फेसबुक भी जांच में सहयोग कर रहा है.

(सबसे बड़ी इंटरनेट कंपनियां)

ओएसजे/एमजे (रॉयटर्स)

DW.COM

विज्ञापन