रामलिंगा राजू को मिली जमानत | जर्मन चुनाव 2017 | DW | 18.08.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

जर्मन चुनाव

रामलिंगा राजू को मिली जमानत

घोटाले में फंसे सत्यम कंप्यूटर के संस्थापक राजू रामलिंगा को आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट ने जमानत दे दी है. उन्हें सत्यम कंप्यूटर्स के खातों में धांधली करने के आरोप में 17 महीने पहले गिरफ्तार किया गया था.

default

हैदराबाद में ही रहेंगे राजू

7 जनवरी को गिरफ्तार किए गए रामलिंगा राजू का फिलहाल हैदराबाद के एक अस्तपाल में इलाज चल रहा है. उन्हें जमानत इस शर्त पर दी गई है कि वह हैदराबाद में ही रहेंगे. साथ ही उन्हें अदालत में 20-20 लाख रुपये के दो मुलचके भरने पड़े हैं.

Logo Mahindra Satyam WM 2010 Bandenwerbung

जस्टिस राजा एलांगो ने सत्यम कम्प्यूटर के पूर्व चैयरमैन को जमानत दी. सत्यम कंप्यूटर अब महिंद्रा ग्रुप के पास है और इसका नाम महिंद्रा सत्यम रखा गया है. वैसे सीबीआई ने कहा है कि अगर राजू को रिहा कर दिया गया तो वह मामले के 250 गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं. राजू ने पिछले साल कंपनी के बोर्ड से लिखित तौर पर कहा कि उन्होंने खातों हेराफेरी की है.

14 हजार करोड़ रुपये के सत्यम घोटाले मामले में राजू के साथ गिरफ्तार सभी 10 आरोपियों को अलग अलग अदालतों में जमानत मिल गई है. राजू के वकील भरत कुमार ने पत्रकारों को बताया कि अगले आदेश तक राजू हैदराबाद में रही रहेंगे. वकील के मुताबिक राजू जांच में सहयोग दे रहे हैं और आगे भी ऐसा करते रहेंगे.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः ए कुमार

विज्ञापन