यूटरस ट्रांसप्लांट से उम्मीद | मंथन | DW | 22.01.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मंथन

यूटरस ट्रांसप्लांट से उम्मीद

कई औरतों का मां बनने का सपना इसलिए पूरा नहीं हो पाता क्योंकि उनके शरीर में गर्भाशय यानी यूटरस ही नहीं होता है. आम भाषा में जिसे हम कोख कहते हैं. कई बार यूटरस होने के बाद भी कुछ ऐसे मुश्किलें होती हैं कि वो ठीक से काम नहीं कर पाता. ऐसे में किसी और के शरीर से यूटरस ले कर उसे ट्रांसप्लांट किया जा सकता है. हम उस डॉक्टर से मिलने पहुंचे, जिसने जर्मनी में पहली बार ऐसा ऑपरेशन किया है

वीडियो देखें 03:16