मैर्केल का हाथ और पुतिन की उंगली | दुनिया | DW | 08.07.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मैर्केल का हाथ और पुतिन की उंगली

अमेरिकी प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप की मुश्किलों से लेकर शांत रहने वाली जर्मन चांसलर अंगेला मैर्केल के चेहरों की लकीरों तक हैम्बर्ग में कैमरे और पत्रकारों की नजरें जी20 की गंभीर बातों से अलग कुछ और भी ढूंढ रही थीं.

जी20 में विरोध प्रदर्शनों और दुनिया के नेताओं की चर्चाओं के अलावा भी बहुत कुछ हुआ. एक नजर कुछ ऐसी ही बातों पर.

फंसे रहे डॉनल्ड ट्रंप और मेलानिया

डॉनल्ड ट्रंप की बीवी मेलानिया ट्रंप को जी20 नेताओं की बीवियों और पतियों के साथ क्रूज के सफर पर जाना था लेकिन वो वैश्वीकरण विरोधी कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के कारण अपने होटल में ही फंसी रही. बाहर हंगाममा मचा रहा कहीं खिड़कियों के शीशे टूट रहे थे तो कहीं कारें जल रही थीं. आखिरकार वो बाहर निकलने में कामयाब तो हुईं लेकिन तब तक उनके पति डॉनल्ड ट्रंप रूसी राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिल के साथ बातचीत में व्यस्त हो गए. अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा, "बातचीत की मेज पर कई गंभीर मसले थे, हर चीज को कम से कम कुछ तो वक्त देना था, दोनों में से कोई इसे रोकना नहीं चाहता था."

जी 20 में एक और ट्रंप

शनिवार को लोगों ने जी20 सममेलन में अमेरिका का प्रतिनिधित्व करने वाले एक और ट्रंप को देखा. राष्ट्रपति की बेटी इवांका ट्रंप भी दुनिया के नेताओं के साथ मेज पर नजर आयीं. 35 साल की पूर्व फैशन मॉ़डल टेबल पर शी जिनपिंग, रेचप तैयब एर्दोवान, अंगेला मैर्केल और टेरीजा में के साथ नजर आयीं. व्हाइट हाउस के अधिकारियों औरर राजनयिकों ने इस बात की पुष्टि की. व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया कि इवांका पीछे के कमरे में थीं लेकिन, "डॉनल्ड ट्रंप को जब बाहर जाना पड़ा तो थोड़ी देर के लिए वो आकर मुख्य टेबल पर बैठ गयीं." इसे लेकर काफी हो हल्ला भी मचा.

माक्रों का बदला रुख

इस साल नाटो की बैठक में फ्रांस के राष्ट्रपति इमानुएल माक्रों ट्रंप को छोड़ दूसरे नेताओं के साथ हाथ मिलाने जाते दिखे थे और यह वीडियो खूब वायरल हुआ था लेकिन जी20 में माक्रों का रुख बदला बदला था. इस बार फैमिली फोटो के दौरान माक्रों ट्रंप के साथ ही नजर आये बल्कि एक मौके पर जब ट्रंप बिल्कुल किनारे हो गये थे तो माक्रों सिरे पर जा कर उन्हें बीच में ले आये. शनिवार को सुबह के सत्र में भी माक्रों बड़ी गर्मजोशी के साथ ट्रंप से मिलते नजर आये. फ्रेंच राष्ट्रपति तो एक समय में ट्रंप की तरफ इतना ज्यादा झुक गये थे कि लगा कहीं उन्होंने बोसे के लिए अपना गाल तो नहीं बढ़ा दिया लेकिन वहां मौजूद पत्रकारों ने बताया कि ये महज गलबहियां थीं.

किसके लिए बजी ताली

हैम्बर्ग के एल्बफिलहार्मोनी कंसर्ट हॉल में सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए पहुंचने वाले नेताओं में डॉनल्ड ट्रंप सबसे बाद में आये. गाड़ी से उनके बाहर निकलते ही जोरदार तालियों की आवाज़ सुनायी दी और उन्होंने जवाब में मुस्कुरा कर आभार जताया लेकिन जर्मन मीडिया का कहना है कि ये तालियां फ्रेंच राष्ट्रपति इमानुएल माक्रों के लिए थीं जो ठीक उनके पीछे थे. 

मैर्केल का हाथ और पुतिन की उंगली

पुतिन और मैर्केल की मुलाकात को लेकर सोशल मीडिया में पहले से ही बड़ी उत्सुकता थी, तरह तरह के जोक भी शेयर किये जा रहे थे कि दोनों नेताओं में क्या बात हुई होगी. कांफ्रेंस हॉल में मैर्केल ने अपना हाथ उठाया तो ऐसा लगा जैसे वह कुछ फेंकना चाहती हों लेकिन पुतिन ने अपनी ऊंगली उठा कर अपने भाव प्रकट किए. जर्मन चांसलर बस पलक झपकाती रह गयीं. 

एनआर/एके (एएफपी)

संबंधित सामग्री

विज्ञापन