मुशर्रफ सेना अस्पताल में भर्ती | दुनिया | DW | 02.01.2014
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मुशर्रफ सेना अस्पताल में भर्ती

पाकिस्तान के पूर्व तानाशाह परवेज मुशर्रफ को दिल की समस्या के कारण अस्पताल में भर्ती किया है. उन्हें आज देशद्रोह के मुकदमे की सुनवाई कर रही अदालत में पेश होना था.

पुलिस का कहना है कि पूर्व सैनिक शासक को अदालत जाते हुए छाती में दर्द हुआ जिस कारण उन्हें अस्पताल ले जाना पड़ा. अदालती कार्रवाई के पहले दो दिन मुशर्रफ सुरक्षा की दुहाई देकर अदालत में हाजिर नहीं हुए थे. बुधवार को न्यायाधिकरण ने उन्हें आज सुनवाई में पेश होने का आदेश दिया था.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी जान मोहम्मद ने इस्लामाबाद में अदालत को बताया कि भारी सुरक्षा बंदोबस्त के बीच अदालत ले जाते समय मुशर्रफ अचानक बीमार हो गए. मोहम्मद ने कहा, "उन्हें दिल की समस्या होने पर सेना अस्पताल के कार्डियोलॉजी विभाग में भर्ती किया गया है."

इसके पहले पाकिस्तानी अधिकारियों ने पूर्व राष्ट्रपति मुशर्रफ की सुरक्षा के लिए अदालत जाने के रास्ते में सैकड़ों सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया था. पुलिस प्रमुख सिकंदर हयात ने बताया कि उनके घर से अदालत तक के दो किलोमीटर के रास्ते की सुरक्षा के लिए 2,000 पुलिस और पारामिलिटरी बलों को तैनात किया गया था.

पाकिस्तान के निर्वाचित प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का तख्तापलट कर सत्ता में आए जनरल मुशर्रफ ने 1999 से 2008 तक पाकिस्तान पर शासन किया. उनके एक सहयोगी ने समाचार एजेंसियों को बताया कि अस्पताल ले जाए जाने से पहले रिटायर्ड जनरल बुरी हालत में थे.

मुशर्रफ के खिलाफ 2007 में संविधान को स्थगित करने और आपात स्थिति की घोषणा के कारण देशद्रोह के आरोप लगाए गए हैं. उन्होंने आरोपों का खंडन किया है और उन्हें राजनीतिप्रेरित बताया है. पिछले साल हुए चुनावों में नवाज शरीफ भारी बहुमत से फिर से सत्ता में आए हैं.

मुशर्रफ के खिलाफ मुकदमा चलाने का फैसला नवाज शरीफ की सरकार ने किया है. इस बात की आशंका जताई जा रही है कि मुकदमे की वजह से देश की निर्वाचित सरकार और अत्यंत ताकतवर सेना के बीच टकराव की नौबत आ सकती है. मुशर्रफ ने खुद इस बात का दावा किया है कि सेना उनके साथ है.

एमजे/आईबी (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन