मुशर्रफ कर सकते हैं यूएन आयोग पर मुकदमा | जर्मन चुनाव 2017 | DW | 18.04.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

जर्मन चुनाव

मुशर्रफ कर सकते हैं यूएन आयोग पर मुकदमा

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज़ मुशर्रफ बेनजीर भुट्टो हत्याकांड की छानबीन करने वाले संयुक्त राष्ट्र आयोग के सदस्यों पर मुकदमा कर सकते हैं. बेनजीर को उचित सुरक्षा न देने के लिए मुशर्रफ को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है.

default

साल भर से पाकिस्तान नहीं गए हैं मुशर्रफ

मुशर्रफ के एक वकील चौधरी फवाद ने बताया, "रिपोर्ट में मुशर्रफ पर निजी तौर पर कोई आरोप नहीं लगे हैं. लेकिन यह जरूर कहा गया है कि उनकी सरकार बेनज़ीर भुट्टो की सुरक्षा करने में नाकाम रही." पूर्व प्रधानमंत्री बेनज़ीर भुट्टो की हत्या की जांच करने वाले संयुक्त राष्ट्र आयोग के एक सदस्य ने प्रेस कांफ्रेंस में एक सवाल के जवाब में मुशर्रफ का ज़िक्र किया.

फवाद ने कहा, "अगर संयुक्त राष्ट्र आयोग के सदस्य ने बिना किसी ख़ास मकसद से मुशर्रफ का नाम लिया है तो कोई कार्रवाई नहीं होगी, लेकिन अगर ऐसा जानबूझकर किया गया है तो फिर पूर्व राष्ट्रपति संयुक्त राष्ट्र आयोग के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत का दरवाजा खटखटाएंगे."

मुशर्रफ पिछले साल अप्रैल से ही पाकिस्तान से बाहर हैं. फवाद ने बताया कि मुशर्रफ को संयुक्त राष्ट्र के आयोग की जांच रिपोर्ट मिल गई है और उन्होंने इसे पढ़ा भी है. अब वह इस सिलसिले में पाकिस्तान या विदेश में अपने वकीलों से सलाहमशविरा कर रहे हैं. संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट में कहा गया है कि बेनज़ीर भुट्टो की जान को मौजूद खतरों के बावजूद मुशर्रफ सरकार उन्हें उचित सुरक्षा देने में नाकाम रही.

मुशर्रफ के प्रवक्ता मोहम्मद अली सैफ ने कहा है कि रिपोर्ट में मुशर्रफ के नाम का ज़िक्र होने को मीडिया जानबूझकर उछाल रहा है जबकि मुख्य आरोप तो सरकार के खिलाफ लगाए गए हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः एम गोपालकृष्णन

संबंधित सामग्री

विज्ञापन