मिलने-जुलने की तरफ़दारी पर मुअत्तल | लाइफस्टाइल | DW | 21.04.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

लाइफस्टाइल

मिलने-जुलने की तरफ़दारी पर मुअत्तल

मनवाधिकारों की वक़ालत करने पर सऊदी अरब में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को नौकरी से निकाला गया. पुलिस अधिकारी ने महिला और पुरुषों के खुलकर साथ घूमने का समर्थन किया था.

default

मक्का के पुलिस अधिकारी अहमद बिन कासिम अल ग़मिदी ने इस बात का समर्थन किया कि महिला और पुरुषों का साथ घूमने की आज़ादी मिलनी चाहिए. एक अख़बार के साथ बातचीत में उन्होंने कहा, ''साथ साथ रहना प्राकृतिक है. इस पर पाबंदी लगाने के लिए कोई ठोस कारण समझ नहीं आता.''

अख़बार को दिए इस इंटरव्यू के बाद ही ग़मिदी की छुट्टी हो गई. उन्हें पद से निलंबित कर दिया गया. सउदी अरब में धार्मिक मामलों की देख रेख विशेष धार्मिक पुलिस करती है. ग़मिदी भी धार्मिक पुलिस के अधिकारी थे.

ग़मिदी पर आरोप लगाए गए हैं कि उन्होंने धार्मिक कायदों की अनदेखी और आलोचना की. सऊदी अरब में रिश्तेदारी को छोड़ महिलाओं और पुरुषों के घुलने मिलने पर पाबंदी है.

रिपोर्ट: एपी/ओ सिंह

संपादन: उज्ज्वल भट्टाचार्य

संबंधित सामग्री

विज्ञापन