मलाला पर बॉलीवुड फिल्म | मनोरंजन | DW | 08.12.2012
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

मलाला पर बॉलीवुड फिल्म

तालिबान ने गोली मारी, यूएन ने सम्मान किया, पाकिस्तान पूज रहा है अब बॉलीवुड की बारी आई है और उसने फिल्म बनाने का फैसला किया है. मलाला यूसुफजई पर बॉलीवुड फिल्म की शूटिंग इसी महीने शुरू हो जाएगी.

भारतीय फिल्मकार अमजद खान पाकिस्तान की मलाला यूसुफजई पर फिल्म बना रहे हैं. तालिबान की गोलियों से जख्मी मलाला फिलहाल ब्रिटेन के अस्पताल में इलाज करा रही हैं. फिल्मकार खान ने बताया है कि मलाला को छोड़ बाकी कलाकारों के नाम तय हो गए हैं. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि सुरक्षा कारणों से फिलहाल वह कलाकारों के नाम जाहिर नहीं करेंगे.

जर्मन समाचार एजेंसी डीपीए ने एक भारतीय समाचारपत्र के आधार पर जारी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि अमजद खान का मलाला के बारे में एक बयान छपा है जिसमें उन्होंने कहा, "मैं उसे एक महिला या लड़की की तरह नहीं बल्कि क्रांति की तरह देखता हूं. वह सिर्फ 15 साल की है और तब भी उसने दुनिया भर की लाखों महिलाओं के लिए उम्मीद की रोशनी दिखाई है." खान ने यह भी कहा, "ऐसे देश में जहां शिक्षा आज भी बहुतों के लिए महज एक शब्द भर है मुझे लगता है कि मलाला का अपनी शर्तों पर जीने के लिए संघर्ष उसे फिल्म के लिए एक विस्फोटक मसाला बनाता है."

मलाला को स्कूल बस में नौ अक्टूबर को गोली मार दी गई. स्वात घाटी में लड़कियों की शिक्षा के लिए खुलेआम आवाज बुलंद करने के लिए तालिबान ने उसे "सजा" दी थी. वक्त पर इलाज से किसी तरह उसकी जान बच गई और इसके साथ ही दुनिया को मलाला के रूप में क्रांति की एक नई आवाज, नई शक्ल मिल गई. स्वात घाटी के इलाके में तालिबान ने 2008-09 से ही प्रभाव में आने के बाद लड़कियों के स्कूल जाने पर पाबंदी लगा रखी है.

मलाला यूसुफजई को दुनिया भर में उनकी हिम्मत और सरोकारों की लड़ाई के लिए सम्मान मिल रहा है. संयुक्त राष्ट्र ने तो बकायदा हर साल 10 नवंबर को उनके नाम पर मलाला दिवस मनाने का एलान कर दिया गया है जिसकी इसी साल शुरुआत भी हो गई है. सिर्फ इतना ही नहीं मलाला का नाम एक प्रतिष्ठित पत्रिका ने दुनिया के बड़े विचारकों में मलाला का नाम शामिल किया है. ब्रिटेन में मलाला को आधिकारिक रूप से नोबेल शांति पुरस्कार के लिए नॉमिनेट करने पर अभियान चल रहा है, जबकि टाइम पत्रिका के 2012 के पर्सन ऑफ द ईयर की वोटिंग में मलाला ऊपर के तीनों नामों में शामिल हैं.

अमजद खान ने इससे पहले "ले गया सद्दाम" फिल्म बनाई थी. यह फिल्म इस्लामी तलाक के कानून पर थी जिसे कट्टर मुस्लिम गुटों से काफी विरोध का सामना करना पड़ा. जयपुर के एक मौलवी ने फिल्म के खिलाफ फतवा जारी कर दिया और अमजद खान को फोन पर धमकियां भी मिलीं.

खान की नई फिल्म की शूटिंग दिसंबर के अंत तक शुरू हो जाएगी. उन्होंने बताया है कि सुरक्षा कारणों से मलाला की भूमिका निभाने वाली लड़की का नाम फिल्म रिलीज होने के महज एक हफ्ते पहले ही सार्वजनिक की जाएगी. खान ने कहा है कि अगर उन्हें अनुमति मिल गई तो वो इस किरदार को मलाला ही नाम देंगे.

एनआर/एजेए (डीपीए)

DW.COM

WWW-Links

विज्ञापन