मंदिर पर हमला करने वालों का कोई सुराग नहीं | दुनिया | DW | 08.02.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

मंदिर पर हमला करने वालों का कोई सुराग नहीं

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हिंदू मंदिर पर हुए हमले की जांच के आदेश दिए हैं. प्रधानमंत्री के विशेष सलाहकार रमेश कुमार ने आला पुलिस अधिकारियों के साथ मंदिर का दौरा किया.

सिंध प्रांत के खैरपुर कुंब इलाके में बने मंदिर पर चार फरवरी को हमला किया गया. हमलावरों ने मंदिर की मूर्तियों और पवित्र पुस्तकों  में आग लगा दी. इसकी कड़ी आलोचना करते हुए प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि यह हमला इस्लाम की पवित्र किताब कुरान की शिक्षा के विरुद्ध है.

मामले की जांच का आदेश देते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट किया, सिंध सरकार को "अपराधियों के खिलाफ तेज और निर्णायक कदम उठाना चाहिए."

पाकिस्तान में सांसद और प्रधानमंत्री के विशेष सलाहकार रमेश कुमार ने सिंध के कमिश्नर के साथ कुंब का दौरा किया है. आला पुलिस अधिकारियों को तेज जांच के साथ साथ नुकसान की समीक्षा करने का आदेश भी दिया गया है.

Pakistan Eröffnung des Kartarpur-Korridors (picture-alliance/AP Photo/K.M. Chaudary)

धार्मिक सद्भावना पर जोर देते इमरान खान

स्थानीय पुलिस के मुताबिक अपराधियों को अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है. किसी ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. स्थानीय हिंदू और मुस्लिम समुदाय ने मंदिर पर हुए हमले की आलोचना की है.

सिंध के गवर्नर इमरान इस्माइल ने हमले को धार्मिक सद्भावना बिगाड़ने की कोशिश करार दिया है. गवर्नर हाउस ने एक बयान कर कहा है कि प्रांत में अल्पसंख्यकों की सुरक्षा के लिए हर संभव कदम उठाए जाएंगे.

पाकिस्तान में हिंदू, सिख और ईसाई अल्पसंख्यक हैं. देश में कई जगहों पर उनके उपासना स्थल हैं. मानवाधिकार संगठनों का आरोप है कि इस्लामिक कट्टरपंथी आए दिन अल्पसंख्यकों को निशाना बनाते हैं.

(पाकिस्तान में इतना प्राचीन भव्य मंदिर)

ओएसजे/एनआर (एपी, एएफपी)

 

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन