भारत के साथ अपने राजनयिक संबंधों का स्तर कम करेगा पाकिस्तान | दुनिया | DW | 07.08.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

भारत के साथ अपने राजनयिक संबंधों का स्तर कम करेगा पाकिस्तान

कश्मीर पर भारत सरकार के फैसले के खिलाफ पाकिस्तान का बयान. भारत के साथ राजनयिक संबंधों का स्तर कम करेगा पाकिस्तान.

पाकिस्तान ने कहा है कि वो भारत के साथ अपने राजनयिक संबंधों का स्तर कम कर देगा. साथ ही वो भारत के साथ द्विपक्षीय व्यापार भी बंद कर देगा. ये फैसले भारत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर को दिया गया विशेष दर्जा खत्म करने और जम्मू कश्मीर को केंद्र शाशित प्रदेश बनाने के विरोध में लिए गए हैं.

यह फैसला पाकिस्तान की राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक के बाद लिया गया जिसकी अध्यक्षता प्रधानमंत्री इमरान खान ने की. बैठक में पाकिस्तान के उच्चायुक्त को वापस बुलाने और भारत के उच्चायुक्त को निष्कासित करने का फैसला लिया गया. समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार भारत के विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के फैसले पर टिप्पणी के आग्नह पर कोई जवाब नहीं दिया.

साथ ही इस मीटिंग में तय किया गया कि भारत और पाकिस्तान के संबंधों का रिव्यू किया जाएगा. इसके अलावा इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र में ले जाया जाएगा. भारत के साथ किए जा रहे हर तरह के द्विपक्षीय व्यापार को पाकिस्तान ने रोकने का फैसला किया है. 14 अगस्त को मनाए जाने वाले पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस को कश्मीरियों के साथ एकजुटता दिवस के रूप में मनाया जाएगा. इस बैठक के बाद जारी एक बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री ने सभी कूटनीतिक चैनलों को "भारत की नस्लभेदी सरकार के इरादों और मानवाधिकारों के हनन को सामने लाने के निर्देश दिए हैं."

चीन और पाकिस्तान दोनों ही जम्मू कश्मीर के ऊपर अपना दावा पेश करते रहे हैं. भारत सरकार द्वारा कश्मीर का विशेष दर्जा हटाने के बाद दोनों देशों ने एक स्वर में इसका विरोध किया है. जम्मू कश्मीर भारत का एकमात्र मुस्लिम बहुसंख्यक राज्य था. अब इसे केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है.
आरएस/एमजे (रॉयटर्स, एएफपी)

_______________

हमसे जुड़ें: WhatsApp | Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

संबंधित सामग्री

विज्ञापन