बेहतर व्यापारिक माहौल बनाने चीन पहुंचे जर्मन वित्त मंत्री | दुनिया | DW | 19.06.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

बेहतर व्यापारिक माहौल बनाने चीन पहुंचे जर्मन वित्त मंत्री

जर्मन वित्त मंत्री पेटर आल्टमायर चीन को अपना साझेदार और प्रतिद्वंद्वी दोनों मानते हैं. चीन की यात्रा पर गए आल्टमायर ने चीन के साथ ऐसे व्यापारिक नियम बनाने की बात कही है जिससे यूरोपीय कंपनियों को भी नुकसान ना हो.

जर्मन वित्त मंत्री पेटर आल्टमायर ने अपनी चीन यात्रा के दौरान चीन के नए बाजार नियामक, स्टेट एडमिनिस्ट्रेशन फॉर मार्केट रेगुलेशन (SAMR) के प्रमुख के साथ एक अहम बैठक की. बाजार नियामक प्रमुख शिआओ याचिंग के साथ एक सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर के साथ उन्होंने अपनी तीन दिवसीय यात्रा के पहले दिन की शुरुआत की. इसके अलावा पहले से चले आ रहे द्विपक्षीय आर्थिक संबंधों का विस्तार करने पर भी सहमति बनी.

इस यात्रा के दौरान जर्मन मंत्री आल्टमायर अमेरिका के साथ चल रही चीन की तथाकथित ट्रेड वॉर पर भी चर्चा करेंगे. उन्होंने कहा, "चीन और यूरोपीय संघ एक ओर तो एक दूसरे के साझेदार हैं, वहीं दूसरी ओर प्रतिद्वंद्वी भी." आंकड़ों को देखें तो पता चलता है कि चीन जर्मनी का सबसे बड़ा ट्रेडिंग पार्टनर है. इसलिए भी दोनों पक्षों के बीच अच्छे आर्थिक संबंध सुनिश्चित करना उनके लिए अहम है. आल्टमायर ने बताया, "हमें एक ऐसा बराबरी का माहौल तैयार करने की जरूरत है जिसमें ना तो कोई भेदभाव हो और ना ही किसी को नुकसान."

बीजिंग में आने वाले दिनों में आल्टमायर चीन के उद्योग और आईटी मंत्री के अलावा देश के व्यापार मंत्री से भी मिलने वाले हैं. इसके अलावा आल्टमायर चीन में आर्थिक प्रबंधन के सबसे बड़े दफ्तर 'नेशनल डिवेलपमेंट एंड रिफॉर्म कमीशन' के अध्यक्ष से भी होनी है.

हाल के महीनों में ही ये जर्मन वित्त मंत्री की दूसरी चीन यात्रा है. इसी अप्रैल में उन्होंने चीन में आयोजित बेल्ट एंड रोड फोरम के दूसरे संस्करण में भी हिस्सा लिया था. साल 2018 में चीन-जर्मनी द्विपक्षीय कारोबार 199.3 अरब यूरो (करीब 226 अरब डॉलर) दर्ज किया गया. पिछले दो दशकों में चीनी निवेश के लिए जर्मनी एक प्रमुख ठिकाना रहा है. पूरे यूरोपीय संघ में जर्मनी को चीनी निवेश से सबसे ज्यादा फायदा होता है.

आरपी/एए (डीपीए, रॉयटर्स)

_______________

हमसे जुड़ें: WhatsApp | Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन