बुरकिना फासो के किसान और ग्रामीण | ताना बाना | DW | 22.09.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

बुरकिना फासो के किसान और ग्रामीण

जलवायु परिवर्तन के साथ बुरकिना फासो के उत्तरी हिस्से में सूखा और भूक्षरण आम हो गया है. किसान और गांवों में रहने वाले लोग इस बदलाव को झेलना सीख रहे हैं.

Frauen Burkina Faso (APImages)

पड़ेंगे पीने के पानी के लाले

 जनसंख्या के साथ बढ़ती जा रही मांग, खेती और जलवायु परिवर्तन के कारण कई इलाकों में अभी ही पानी की बेहद कमी हो चुकी है. 

 

DW.COM

विज्ञापन