फ्रेंच नागरिकता लेना चाहते हैं ब्रिटिश पीएम के पिता | दुनिया | DW | 01.01.2021

डीडब्ल्यू की नई वेबसाइट पर जाएं

dw.com बीटा पेज पर जाएं. कार्य प्रगति पर है. आपकी राय हमारी मदद कर सकती है.

  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

फ्रेंच नागरिकता लेना चाहते हैं ब्रिटिश पीएम के पिता

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के पिता स्टेनली जॉनसन का कहना है कि वह यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के निकलने के बाद फ्रांस की नागरकिता के लिए आवेदन करेंगे. बोरिस जॉनसन ब्रेक्जिट समर्थक माने जाते हैं.

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के पिता स्टेनली जॉनसन

स्टेनली जॉनसन की दादी और मां का फ्रेंच से नाता रहा है

स्टेनली जॉनसन का कहना है कि वह भी 27 देशों वाले यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के निकलने का समर्थन करते हैं. बावजूद इसके वह फ्रांस की नागरिकता लेना चाहते हैं. हालांकि जब 2016 में ब्रेक्जिट जनमतसंग्रह हुआ तो उन्होंने यूरोपीय संघ में बने रहने के हक में वोट दिया था. लेकिन उसके बाद उन्होंने अपना रुख बदल लिया.

फ्रेंच रेडियो स्टेशन आरटीएल के साथ बातचीत में स्टेनली जॉनसन ने कहा कि वह तो "पहले से ही फ्रेंच" हैं. उन्होंने बताया कि उनकी दादी फ्रेंच थीं और उनकी मां फ्रांस में पैदा हुईं. उन्होंने कहा, "यह तो पक्का है कि मैं हमेशा यूरोपीय रहूंगा.. आप किसी इंग्लिश व्यक्ति से यह नहीं कह सकते हैं कि तुम यूरोपीय नहीं हो. यूरोपीय संघ से संपर्क रखना जरूरी है."

80 वर्षीय स्टेनली जॉनसन यूरोपीय संसद के सदस्य रह चुके हैं. हालांकि पिछले साल द टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि उन्होंने अपना मन बदल लिया है और अब वह यूरोपीय संघ से निकलने के हक में हैं.

दूसरी तरफ, ब्रिटेन के सांसदों ने ब्रेक्जिट के बाद यूरोपीय संघ के साथ व्यापार के तौर तरीकों को निर्धारित करने वाली डील को मंजूरी दे दी है. इसके तहत अब ब्रिटेन के लोगों को यूरोपीय संघ के देशों में बेरोकटोक रहने और काम करने की अनुमति नहीं होगी.

ये भी पढ़िए: ये सब बदलाव लाएगा ब्रेक्जिट

अक्टूबर 2019 में कंजरवेटिव पार्टी के सम्मलेन में ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा था कि उनकी मां शारलोटे जॉनसन वाल ने यूरोपीय संघ से निकलने के समर्थन में वोट दिया था. वाल को 1979 में तलाक देने वाले स्टेलनी इस बात पर बोरिस जॉनसन की पार्टनर की तरफ देखकर बोले,, "मुझे यह नहीं पता था."

पिछले साल अक्टूबर में स्टेनली ने उस वक्त माफी मांगी जब ब्रिटेन में लागू पाबंदियों के बावजूद वह बिना मास्क पहने शॉपिंग कर रहे थे. अक्टूबर में ही ग्रीस की यात्रा करने के लिए भी उनकी आलोचना हुई थी, जबकि ब्रिटेन की सरकार ने अपने नागरिकों से कहा था कि सिर्फ बहुत जरूरी होने पर ही विदेश की यात्रा करें.

एके/एए (एएफपी, एपी, डीपीए, रॉयटर्स)

__________________________

हमसे जुड़ें: Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

DW.COM

संबंधित सामग्री