फिर भंवर में आईओए चुनाव | खेल | DW | 17.11.2012
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फिर भंवर में आईओए चुनाव

भारत में ओलंपिक एसोसिएशन का चुनाव एक बार फिर अधर में लटक गया क्योंकि चुनाव समिति के अध्यक्ष एसवाई कुरैशी ने इस्तीफा दे दिया. उन्होंने कहा कि उनका जमीर पद पर बने रहने को नहीं कह रहा है.

कुरैशी ने ऐसे वक्त में इस्तीफा दिया है, जब 25 नवंबर को भारतीय ओलंपिक संघ का चुनाव होना है. इसके बाद उस चुनाव को लेकर भी सवाल उठने लगे हैं. भारतीय ओलंपिक संघ ने इस चुनाव के लिए पूर्व चुनाव आयुक्त कुरैशी सहित तीन लोगों की कमेटी बनाई थी. अब कुरैशी के इस्तीफे के बाद कमेटी में सिर्फ दो लोग बचे हैं.

अपने इस्तीफे में कुरैशी ने लिखा, "मैं इस बात की तारीफ करता हूं कि भारतीय ओलंपिक संघ ने चुनाव के लिए एक स्वतंत्र समिति बनाई. लेकिन मैं इसमें आगे काम नहीं कर सकता हूं क्योंकि आईओए ने सरकार की खेलों वाली नीति को माना है पर इस पर अमल नहीं कर रहा है."

उन्होंने कहा, "मैं सरकार की नीति का उस वक्त से समर्थन कर रहा हूं, जब मैं खेल मंत्रालय में सचिव था. अब आईओए उस नीति पर अमल नहीं कर रहा है. मेरा जमीर मुझे आगे काम करते रहने से मना कर रहा है."

सरकारी नीति में चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के लिए समय सीमा होती है और उनके लिए पद पर बने रहने की सीमा का भी जिक्र होता है. लेकिन अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने शुक्रवार को ही इस बात पर फैसला कर दिया था कि चुनाव समिति के नियमों से होगा, सरकार के नियमों से नहीं.

भारतीय ओलंपिक संघ के कार्यकारी अध्यक्ष वीके मल्होत्रा ने इस बात की पुष्टि की है कि उन्हें कुरैशी का इस्तीफा मिल गया है. लेकिन उन्होंने कहा कि समिति अपने कायदों पर बनी रहेगी.

मल्होत्रा ने कहा कि चुनाव अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के नियमों के तहत ही होगा. भारत के पूर्व खेल मंत्री सुरेश कलमाड़ी के कॉमनवेल्थ गेम्स घोटाले में फंसने के बाद से भारतीय ओलंपिक संघ परेशानियों से जूझ रहा है. वह 1996 से इसके अध्यक्ष थे लेकिन कॉमनवेल्थ गेम्स के बाद उन्हें निलंबित कर दिया गया और उनकी जगह मल्होत्रा को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया.

एजेए/एएम (पीटीआई)

DW.COM

WWW-Links